Please assign a menu to the primary menu location under menu

Tuesday, May 28, 2024
मध्यप्रदेश

भोपाल और इंदौर में आज या कल लागू हो सकता है पुलिस कमिश्नर सिस्टम

Visfot News

भोपाल

भोपाल और इंदौर में पुलिस कमिश्नर सिस्टम लागू बुधवार या गुरुवार को लागू हो सकता है। इसको लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान बुधवार शाम को मुख्य सचिव और डीजीपी के साथ बैठक करेंगे। बैठक के बाद मुख्यमंत्री इसे हरी झंडी दे सकते हैं। इसके बाद सिस्टम लागू होने का नोटिफिकेशन जारी हो जाएगा। नोटिफिकेशन जारी होने के बाद कैबिनेट और विधानसभा से मंजूरी की जरूरत नहीं होगी। भोपाल के 32 थाने और इंदौर के 34 थाना क्षेत्रों में यह पुलिस कमिश्नर सिस्टम लागू करने की तैयारी है।

मुंबई की तर्ज पर क्राइम ब्रांच, ट्रैफिक सिस्टम
भोपाल-इंदौर में मुंबई की तर्ज पर क्राइम ब्रांच, ट्रैफिक के लिए अलग-अलग डीसीपी नियुक्ति होंगे। इनके अधीन दो-दो एसपी स्तर के अधिकारी तैनात रहेंगे। क्राइम ब्रांच को संगीन अपराधों की विवेचना, छानबीन का काम सौंपा जाएगा। इसी तरह शहर की यातायात व्यवस्था को दुरस्त करने का जिम्मा ट्रैफिक डीसीपी के पास रहेगी।

नगर निगम सीमा के सभी थाने शामिल होंगे
बतादें, गृह मंत्री डा. नरोत्तम मिश्रा ने पूर्व में बताया था कि दोनों शहरों के नगर निगम सीमा में आने वाले थाने इसमें शामिल होंगे। देहात के थाने नहीं रहेंगे, लेकिन देहात के जिन थानों में शहरी क्षेत्र आता है, उन्हें शामिल किया जाएगा। दोनों जिलों में अलग-अलग पुलिस आयुक्त रहेंगे। अतिरिक्त पुलिस आयुक्त स्तर के तीन-तीन, उपायुक्त स्तर के 8 अधिकारी, अतिरिक्त पुलिस आयुक्त स्तर के 12, सहायक पुलिस आयुक्त स्तर के 28 अधिकारी पदस्थ किए जाएंगे। अभी भोपाल के 32 थाने और इंदौर के 34 थाना क्षेत्रों में यह पुलिस कमिश्नर सिस्टम लागू करने की तैयारी है। जिस दिन अधिसूचना निकलेगी, उसी दिन अधिकारियों की पोस्टिंग कर दी जाएगी। इसे न कैबिनेट में लाने की आवश्यकता है, न ही विधानसभा में लाने की। हम पांच अलग-अलग प्रकार के नोटिफिकेशन जारी करेंगे। इसी हफ्ते विधि विभाग से अनुमोदन होने के बाद वित्त को जाने के बाद यह सूचना निकालेंगे।

CM ने की थी घोषणा
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने 21 नंवबर रविवार को भोपाल और इंदौर में पुलिस कमिश्नर सिस्टम लागू करने की घोषणा की थी। इसके अगले दिन सोमवार को पुलिस मुख्यालय ने ड्राफ्ट तैयार कर राज्य शासन को भेज दिया था।

RAM KUMAR KUSHWAHA
भाषा चुने »