Please assign a menu to the primary menu location under menu

Tuesday, May 28, 2024
देश

डॉक्टर की लापरवाही से कई मरीजों की जिंदगी में छाया अंधेरा, प्रोटोकॉल के खिलाफ जाकर एक दिन में किए 65 ऑपरेशन

Visfot News

मुजफ्फरपुर
मुजफ्फरपुर आई हॉस्पिटल में मोतियाबिंद के ऑपरेशन के दौरान हुई लापरवाही गंभीर होती जा रही है। मंगलवार को एसकेएमसीएच में दो मरीजों की संक्रमित आंख निकालनी पड़ी। इसके पहले ऑपरेशन के दूसरे दिन ही स्थिति गंभीर होने पर आई अस्पताल ने आनन-फानन में चार मरीजों की आंख निकाल दी थी।

मामला दबाने के प्रयास में अस्पताल प्रबंधन ने इसकी सूचना स्वास्थ्य विभाग या जिला प्रशासन तक को नहीं दी थी। मंगलवार को जांच टीम की सख्ती के बाद अस्पताल प्रबंधन ने पहले ही चार लोगों की आंख निकालने की बात स्वीकारी। जांच टीम ने आशंका जताई है कि दर्जनभर से अधिक मरीजों की आंख निकालनी पड़ सकती है।

ऑपरेशन कराने वाले ज्यादातर मरीजों का कॉर्निया बेकार हो गया है। कई मरीजों में संक्रमण ब्रेन तक पहुंचने का खतरा है। छह पीड़ितों की हालत गंभीर है। इन सबकी आंख बुधवार को एसकेएमसीएच में निकाली जाएगी। उधर, डीएम प्रणव कुमार ने अगले आदेश तक मुजफ्फरपुर आई हॉस्पिटल में ऑपरेशन पर रोक लगा दी है।

आई हॉस्पिटल में ऑपरेशन में लापरवाही के कारण लोगों की आंख की रोशनी जाने का मामला मंगलवार को गरमाया रहा। स्वास्थ्य विभाग के साथ ही प्रशासनिक अधिकारी भी अलर्ट मोड में दिखे। डीएम के आदेश पर एसीएमओ डॉ.सुभाष प्रसाद सिंह के नेतृत्व में बनी जांच टीम लगभग 11 बजे आई हॉस्पिटल पहुंची।

RAM KUMAR KUSHWAHA

8 Comments

Comments are closed.

भाषा चुने »