Please assign a menu to the primary menu location under menu

Tuesday, May 28, 2024
मध्यप्रदेश

अभी कुछ भी बंद नहीं होगा, लेकिन कोरोना से सावधान रहें-CM शिवराज

Visfot News

भोपाल
CM शिवराज सिंह चौहान ने कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन और मध्यप्रदेश के भोपाल, इंदौर-जबलपुर में सामने आ रहे पॉजिटिव केसों पर चिंता जताई है। बुधवार सुबह करीब 1 घंटे तक उन्होंने MP की डिस्ट्रिक, ब्लॉक और पंचायतों की क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की मीटिंग ली। उन्होंने कहा कि, अभी कुछ भी बंद नहीं होगा, लेकिन सावधान रहें, वरना हालात मुश्किल भरे हो जाएंगे। आज सावधानी नहीं रखी तो परिस्थितियां बहुत विकट वाली हो जाएंगी। हम नहीं चाहते कि फिर से लॉकडाउन लगे। काम-धंधे बंद हो जाएं और जिंदगी बहुत कठिन दौर से गुजरे। बात दें कि मध्यप्रदेश में 24 घंटे में 17 केस आए हैं, जिसमें भोपाल में फिर नए 9 केस, इंदौर में 5, जबलपुर में 2 और अशोकनगर में 1 पॉजिटिव शामिल हैं।

मीटिंग में मंत्री, सांसद, विधायक, अफसर के साथ डिस्ट्रिक, ब्लॉक और पंचायतों की क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप के सदस्य वर्चुअली तरीके से जुड़े। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने कहा कि कोरोना से मिलकर लड़ाई लड़ेंगे। इसमें सभी को जोड़ें। मंत्री, सांसद, विधायक, कलेक्टर-एसपी समेत सभी जनप्रतिनिधि, अधिकारी आदि घर-घर दस्तक दें। जो लोग सेकेंड डोज लगवाने से छूट गए हैं, उन्हें डोज लगवाएं। इंदौर 2-3 दिन में सेकेंड डोज का टॉरगेट पूरा कर लें। भोपाल, जबलपुर समेत सभी जिलों के लोगों को भी सेकेंड डोज जल्द लगवाएं।

प्रदेश में 70 हजार टेस्ट रोज होंगे
मुख्यमंत्री ने सभी कलेक्टरों से कहा कि कोरोना टेस्ट की संख्या बढ़ाएं। रोज 70 हजार टेस्ट करें। लोग भी थोड़े लक्षण मिलते ही टेस्ट कराएं। मैं भी हर शुक्रवार को टेस्ट करवाता हूं। इसमें कोई दिक्कत नहीं है। बता दें कि अभी प्रदेश में 53 से 58 हजार के बीच टेस्ट हो रहे हैं।

अब होम आइसोलेशन न करें

मुख्यमंत्री ने स्पष्ट कहा है कि अब कोरोना पॉजिटिव को होम आइसोलेशन नहीं किया जाएगा। हॉस्पिटल में भर्ती कर उनका इलाज किया जाए। मध्यप्रदेश में कोरोना से लड़ने के लिए पर्याप्त दवाई उपलब्ध है। वहीं, 158 ऑक्सीजन प्लांट भी लगवाए गए हैं। आज ही उन्हें चालू करके देख लें। अस्पतालों में अग्निशमन उपकरणों की व्यवस्था भी बेहतर तरीके से की जाए।

कोरोना पॉजिटिव मिलने पर पर्चा लगाएंगे

CM ने कहा कि कोरोना पॉजिटिव आने पर संबंधित के घर में पर्चा लगवाएं। कंटेनमेंट जोन बनाए जाएं। इससे दूसरे लोग संक्रमित होने से बच सकेंगे।

RAM KUMAR KUSHWAHA

1 Comment

Comments are closed.

भाषा चुने »