Please assign a menu to the primary menu location under menu

Tuesday, May 28, 2024
मध्यप्रदेश

एक जुलाई 2022 के पूर्व जिन युवाओं ने पूरे कर लिए हैं 18 वर्ष, वे मतदाता सूची में नाम जुड़वाने हैं पात्र

Visfot News

भोपाल

एक जुलाई 2022 और उसके पहले जिन युवाओं ने 18 वर्ष की आयु पूरी कर ली है वे युवा, मतदाता सूची में अपना नाम जुड़वाने के पात्र हो गए हैं। ऐसे युवा मतदाताओं का नाम मतदाता सूची में जोड़ने की प्रक्रिया एक अगस्त से प्रदेश में शुरू भी हो चुकी है। मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी अनुपम राजन ने यह जानकारी राज्य स्तरीय मास्टर्स ट्रेनर प्रशिक्षण कार्यक्रम में दी।

भारत निर्वाचन आयोग द्वारा निर्वाचन कानून एवं नियमों में संशोधन और एक अगस्त से शुरू हुए आधार संग्रहण अभियान के बारे में संभाग स्तर पर बीएलओ एवं सुपरवाइजर को प्रशिक्षण देने, मुख्य निर्वाचन सदन सभागार में राज्य स्तरीय मास्टर ट्रेनर का प्रशिक्षण कार्यक्रम हुआ। इसमें प्रदेश के समस्त संभागों से मास्टर ट्रेनर शामिल हुए। मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी राजन ने मास्टर ट्रेनर्स को भारत निर्वाचन आयोग द्वारा निर्वाचन कानून एवं नियमों में किए संशोधन और एक अगस्त से शुरू हुए आधार संग्रहण अभियान के बारे में अवगत कराया। प्रशिक्षण में मास्टर ट्रेनर्स ने निर्वाचन कानून एवं नियमों में हुए संशोधन को लेकर विभिन्न बिंदुओं पर चर्चा हुई और मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी राजन ने उनकी जिज्ञासाओं का समाधान किया।

उप जिला निर्वाचन अधिकारी और बीएलओ को देंगे प्रशिक्षण

अपर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी राजेश कुमार कौल ने बताया कि राज्य स्तर पर प्रशिक्षण प्राप्त करने वाले मास्टर ट्रेनर 6 एवं 7 अगस्त को संभाग स्तर पर बीएलओ और उप जिला निर्वाचन अधिकारी को प्रशिक्षण देंगे।

इन बिंदुओं पर हुआ प्रशिक्षण

प्रशिक्षण में निर्वाचक नामावली के विशेष पुनरीक्षण की प्रक्रिया, नियम और निर्वाचन कानून एवं नियमों में संशोधन, आधार कलेक्शन की प्रक्रिया एवं रणनीति, संशोधित फॉर्मो का ऑनलाइन प्रस्तुतिकरण, गरुड़ा एप्प से प्रस्तुतिकरण की प्रक्रिया, गरुड़ा ट्रेनिंग एप्प एवं मूल्यांकन, सेवा निर्वाचकों के नए संशोधित फॉर्मों के साथ ऑनलाइन सर्विस वोटर रजिस्ट्रेशन सिस्टम की जानकारी दी गई।

मतदाता सूची के विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण 2023 के लिए पुनरीक्षण एवं पूर्व गतिविधियों की रूपरेखा बताई गई, जिसमें मतदान केंद्रों का युक्तियुक्तकरण, दोहरी प्रविष्टियाँ हटाने की कार्यवाही, फोटो सुधार सहित मॉनिटरिंग के प्रपत्र के बारे में प्रशिक्षण दिया गया। साथ ही मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी राजन ने हेल्थ पैरामीटर जैसे मतदाता जनसंख्या अनुपात, लिंगानुपात सहित अन्य बिंदुओं को ध्यान में रखकर कार्य करने के निर्देश दिए।

इन्होंने दिया प्रशिक्षण

डॉक्टर संजय दीक्षित प्रोफेसर शासकीय मोतीलाल विज्ञान महाविद्यालय भोपाल, डॉक्टर पी.एन. सनेसर प्रोफेसर शासकीय पीजी कॉलेज छिंदवाड़ा, मुख्य निर्वाचन कार्यालय से एनएलएमटी प्रवास जैन और राजीव जैन ने प्रशिक्षण दिया।

 

RAM KUMAR KUSHWAHA

2 Comments

Comments are closed.

भाषा चुने »