Please assign a menu to the primary menu location under menu

Saturday, November 26, 2022
खास समाचारडेली न्यूज़

दूरदर्शन केन्द्र पहुंचा बंद होने की कगार पर

दूरदर्शन केन्द्र पहुंचा बंद होने की कगार पर

दूरदर्शन केन्द्र पहुंचा बंद होने की कगार परदूरदर्शन केन्द्र पहुंचा बंद होने की कगार पर
Visfot News

छतरपुर। ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों का मनोरंजन करने वाले दूरदर्शन रिले केन्द्र अब बंद होने की कगार पर हैं। इस संबंध में प्रसार भारती बोर्ड एवं दूरदर्शन महानिदेशालय नई दिल्ली द्वारा दिनांक 20 सितम्बर 21 को पत्र क्रमांक 3(2)1/दू./एटीटी/2020/ई-2-पार्ट(1) देश के 412 दूरदर्शन केन्द्र बंद होने की कगार पर पहुंच गए हैं। छतरपुर जिले में वर्ष 1988 में 100वॉट का रिले केन्द्र सर्किट हाउस के पास संचालित किया गया था। वर्ष 2009 में देरी रोड पर नई बिल्डिंग में 20 किलो वॉट का यह केन्द्र संचालित था जिसमें मनोरंजन के कार्यक्रम प्रसारित किए जा रहे थे लेकिन दूरदर्शन महानिदेशालय ने अब इन केन्द्रों को क्रमबद्ध तरीके से बंद करने का आदेश दे दिया है। 31 अक्टूबर को 152 केन्द्र, 31 दिसम्बर को 109, 31 मार्च 2022 को 151 केन्द्र बंद किए जाएंगे।

पहले दूरदर्शन के कर्मचारी सुबह साढ़े 7 बजे से रात्रि 12 बजे तक इन केन्द्रों पर अपनी सेवाएं दे रहे थे अब 24 सितम्बर को दिए गए आदेश के अनुसार सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे तक अपनी ड््यूटी कर रहे हैं। दूरदर्शन रिले केन्द्रों पर देश भर में लगभग 9 हजार कर्मचारी तैनात हैं। छतरपुर जिले में भी करीब 12 कर्मचारी अपनी सेवाएं प्रदान कर रहे हैं। लेकिन अब मप्र के 32 दूरदर्शन रिले केन्द्र बंद हो जाएंगे। देश भर में जम्मू कश्मीर, लद्दाख, सिक्किम, लक्ष्यदीप, अंडमान निकोबार में ही दूरदर्शन रिले केन्द्र काम करेंगे।प्रसार भारती बोर्ड एवं दूरदर्शन महानिदेशालय के इस आदेश से छतरपुर में वर्षों से संचालित दूरदर्शन रिले केन्द्र बंद होने की कगार पर पहुंच गया है। यह केन्द्र 31 अक्टूबर को बंद कर दिया जाएगा। कर्मचारियों के मामले में विभाग द्वारा अभी कोई निर्णय नहीं लिया गया है जिससे दूरदर्शन रिले केन्द्र के कर्मचारियों में आक्रोश व्याप्त है। क्योंकि यह दूरदर्शन रिले केन्द्र करोड़ों रूपए के फायदे में चल रहे थे इसके बाद भी इन केन्द्रों को बंद करना समझ से परे है।

RAM KUMAR KUSHWAHA
भाषा चुने »