Please assign a menu to the primary menu location under menu

Tuesday, December 6, 2022
मध्यप्रदेश

पशुधन योजना पर चर्चा, कैंसर रोगियों के लिए बढ़ाएंगे सुविधाएं: CM शिवराज

Visfot News

भोपाल
कोरोना संकमण के निपटने की तैयारियों के साथ प्रदेश सरकार स्वास्थ्य क्षेत्र में अन्य सुविधाएं भी लगातार विकसित कर रही है। इसके मद्देनजर आज कैबिनेट बैठक में कैंसर रोगियों के इलाज के लिए लीनियर एस्केलेटर को मंजूरी देने पर चर्चा हुई। वहीं कोरोना वैक्सीनेशन बढ़ाने के लिए मुख्यमंत्रियों ने मंत्रियों से भी वैक्सीनेशन प्रोग्राम से जुड़ने को कहा है। इसके अलावा सरकार 12 जनवरी को रोजगार दिवस मनाने जा रही है। इसमें तीन लाख लोगों को स्वरोजगार के लिए कर्ज दिलाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि मध्यप्रदेश में 12 जनवरी को रोजगार दिवस मनाया जाएगा।  एक दिन में एक साथ तीन लाख युवाओं को स्वरोजगार से जोड़ने  बैंकों के जरिए कर्ज दिलाने सहमति पत्र भी वितरित किए जाएंगे।  मंत्रालय में कैबिनेट बैठक प्रारंभ होने से पहले मंत्रियों से चर्चा करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने  कहा कि युवाओं को विभिन्न योजनाओं में बैंकों से कर्ज दिलाने का काम हर माह किया जाएगा।  मुख्यमंत्री ने बताया कि मध्यप्रदेश उन राज्यों में शामिल है जहां  बेरोजगारी की दर सबसे कम है। गत वर्ष अधोसंरचना पर चालीस प्रतिशत अधिक राशि खर्च की गई। कोरोना काल में किए गए प्रयास इसलिए महत्व रखते है क्योंकि संकट के समय ऐसे प्रयासों की आवश्यकता थी।  पंद्रह से अठारह वर्ष की उम्र के बच्चों के वेक्सीनेशन में मध्यप्रदेश सभी प्रांतों से आगे है। उन्होंने मंत्रियों से अनुरोध किया कि वे जिलों में बच्चों के वैक्सीनेशन कार्य का जायजा लें। इस काम को गति देने अपने नेतृत्व में जिलों में प्रयास करें।  सभी मंत्रियों ने मेजे थपथपाकर  मुख्यमंत्री को इस उपलब्धि के लिए बधाई दी।

दूसरी ओर कैबिनेट बैठक में कई अहम मामलों पर विमर्श किया जा रहा है। प्रदेश के मेडिकल कॉलेजों में कैंसर का इलाज अब लीनियर एस्केलेटर के जरिए किया जाएगा। जननिजीभागीदारी से ये मशीने मेडिकल कॉलेजों में लगाई जाएंगी। कैबिनेट में इस प्रस्ताव को मंजूरी देने चर्चा की गई। कैबिनेट बैठक में मेडिकल कॉलेजों में कैंसर रोगियों के इलाज के लिए जननिजी भागीदारी से  लीनियर एस्केलेटर मशीनें स्थापित करने के प्रस्ताव पर चर्चा की गई। इसके उपकरण खरीदने में 105 करोड़ और संचालन में 146 करोड़ रुपए का खर्च आएगा। संचालन और संधारण की जिम्मेदारी सेवा प्रदाता कंपनी को दी जाएगी। अभी तक केंसर रोगियों का इलाज कोबाल्ट मशीन से किया जाता है यह तकनीक पुरानी हो गई है इसके स्थान पर अब लीनियर एस्केलेटर से इलाज किया जाएगा।

अंबेडकर चौक बालाघाट स्थित वाणिज्य कर विभाग की सम्पत्ति को 7 करोड़, 21 लाख रुपए में अभिनव कंस्ट्रक्शन को बेचने की अनुमति देने पर चर्चा की गई। कैबिनेट में  केन्द्र सरकार की नवीन राष्टÑीय पशुधन मिशन योजना का क्रियान्वयन प्रदेश में कराने पर भी विचार किया गया।

कैबिनेट में लोकायुक्त एवं उप लोकायुक्त नियम 1982 में संशोधन कर सेवानिवृत्त लोकायुक्त एवं उप लोकायुक्त को परिवार पेंशन दिए जाने पर भी चर्चा की गई। इसके स्कूल शिक्षा विभाग के अंतर्गत स्ट्ेथनिंग टीचिंग लर्निंग एंड रिजल्ट्स फोर स्टेटस कार्यक्रम के क्रियान्वयन की स्वीकृति देने चर्चा की गई। मध्यप्रदेश पावर जनरेटिंग कंपनी की पूंजीगत योजना अमरकंटक  ताप विद्युत  विस्तार इकाई गृह चचाई के लिए सहमति देने और नगर तथा ग्राम निवेश के विभागीय सेटअप में संशोधन करने के प्रस्ताव पर भी चर्चा की गई।  इसके अलावा नवीन मुख्यमंत्री कृषक फसल उपार्जन योजना लागू करने पर भी चर्चा की गई। इस योजना के जरिए किसानों की मदद की जाएगी।

विधि और विधाई विभाग में अतिरिक्त सचिव के एक रिक्त पद पर सेवानिवृत्त  जिला एवं सत्र न्यायाधीश ब्रजेन्द्र  सिंह भदौरिया को संविदा नियुक्ति देने  और अतिरिक्त सचिव के पद पर सेवानिवृत्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश अभय कुमार को नियुक्ति देने विचार किया गया। वक्फ बोर्ड के तत्कालीन मुख्य कार्यपालन अधिकारी शफीक उद्दीन सैयद की विभागीय जांच शुरु करने पर भी विचार किया गया।  टीकमगढ़ के तत्कालीन डिप्टी कलेक्टर तथा खरगापुर के रिटर्निंग आफीसर फूलदार  जाधव  की विभागीय जांच शुरु करने पर भी विचार किया गया। राज्य सेवा परीक्षा नियम 2015 में संशेधन करने के प्रस्ताव का अनुसमर्थन भी कैबिनेट  से कराया गया। मध्यप्रदेश लोक सेवा आयोग में विशेष कर्त्तव्यस्थ अधिकारी का एक पद सृजित करने पर विचार किया गया। आनंद विभाग का गठनऔर अध्यात्म विभाग का नाम बदलकर धार्मिक न्यास एवं धर्मस्व विभाग करने पर भी चर्चा की गई।

RAM KUMAR KUSHWAHA
भाषा चुने »