Please assign a menu to the primary menu location under menu

Saturday, November 26, 2022
खास समाचार

अपराधियों पर अंकुश लगाने की गई संपत्ति की जांच

अपराधियों पर अंकुश लगाने की गई संपत्ति की जांचअपराधियों पर अंकुश लगाने की गई संपत्ति की जांच
Visfot News

छतरपुर। अपराधों पर अंकुश लगाने और अपराधियों के विरूद्ध सख्त कार्यवाही करने के लिए मुख्यमंत्री के निर्देश पर पुलिस अधीक्षक सचिन शर्मा और कलेक्टर शीलेन्द्र सिंह के द्वारा संयुक्त रूप से चलाए जा रहे गुण्डा विरोधी अभियान के तहत शनिवार को एक बार फिर छतरपुर जिला मुख्यालय पर चार आदतन अपराधियों की संपत्तियों की वैधानिकता को जांचा गया। पुलिस फोर्स के साथ नगर पालिका के कर्मचारियों ने इन गुण्डों के मकानों की निर्माण मंजूरियों सहित उनकी सीमाओं को फीते से नापा।

एसपी सचिन शर्मा ने बताया कि समाज के ऐसे तत्व जो आपराधिक प्रवृत्ति के कारण निरंतर आपराधिक घटनाओं में संलिप्त रहते हैं या उन्हें संरक्षण देते हैं उनके विरूद्ध अभियान चलाया जा रहा है। ऐसे आपराधिक प्रवृत्ति के लोग जिन्होंने अपनी दहशत फैलाकर शासकीय संपत्तियों पर कब्जा किया है। लोगों को परेशान कर उनकी जमीनों को हड़पा है इनके विरूद्ध प्रशासनिक स्तर पर भी राजस्व अधिकारियों की मदद लेकर जांच पड़ताल कराई जा रही है। अभियान के पहले चरण में पिछले महीने जिले भर के लगभग दो दर्जन गुण्डे बदमाशों की संपत्तियों की जांच कराई गई थी। शनिवार को एक बार फिर शहर के ट्रांसपोर्ट नगर के समीप रहने वाले राकेश यादव के मकान की नाप कराई गई। राकेश यादव ने दो दिन ही सबनीगर मोहल्ले में रहने वाले शहबाज खान पर गोली चलाई थी। इसके अलावा नारायणपुरा रोड पर रहने वाले आदतन अपराधी तारिक सौदागर, किशोर सागर के समीप रहने वाले भैया काटर और कुंजरेहटी में रहने वाले जफ्फू खान के घर की नापतौल कराई थी। नगर पालिका और राजस्व की टीमें इन अपराधियों की अचल संपत्ति के दस्तावेज से मौके पर मौजूद निर्माण को जांच रही हैं। यदि इन दस्तावेजों में मौजूद नापतौल एवं भौतिक स्थिति में परिवर्तन पाया जाएगा तो इन बदमाशों के मकान गिराए जाएंगे।

RAM KUMAR KUSHWAHA
भाषा चुने »