Please assign a menu to the primary menu location under menu

Saturday, November 26, 2022
खास समाचारडेली न्यूज़

समीक्षा किए बिना मिले आवेदनों पर दण्डात्मक कार्यवाही होगी, जानकारी देनें में विलम्ब करने वाले रीडर को जेल भिजवाएं

Visfot News

छतरपुर। कलेक्टर छतरपुर शीलेन्द्र सिंह ने सोमवार को टीएल की सम्पन्न बैठक में निर्देश दिए कि कलेक्ट्रेट की शिकायत शाखा में प्राप्त होने वाले आवेदनों पर समाधानकारक प्रभावी कार्यवाही कराने के लिए आवेदनों को त्वरित गति से सम्बंधित विभाग तक पहुंचाएं जिसके लिए इस शाखा में पदस्थ अमला संवेदनशीलता एवं सतर्कता से कार्य करे। कलेक्टर श्री सिंह ने कहा कि अनुविभाग स्तर से शासकीय भूमि के प्रकरण भी कलेक्टर के पास स्वीकृति के लिए भेजे जा रहे हैं उन्होंने अनुविभागीय राजस्व अधिकारियों को निर्देशित किया कि जो कार्य उनके स्तर से संतुष्टि पूर्वक हल हो सकते हैं लेकिन उन्हें कलेक्टर के पास अनुविभाग स्तर से बिना समीक्षा किए स्वीकृति के लिए और नियमों का उल्लेख नहीं करते हुए भेजा जाता है तो सम्बंधित के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्यवाही के साथ-साथ दण्डात्मक कार्यवाही भी की जाएगी। कलेक्टर ने कहा कि एसडीएम कार्यालय द्वारा तहसील कार्यालय से मंगाई जाने वाले जानकारी में भी होने वाले विलम्ब पर रीडर को बुलाकर जानकारी मंगाऐं और जो रीडर जानकारी न दें उन्हें जेल भिजवाएं। उन्होंने कहा कि शिकायतों के प्रतिवेदन में समीक्षा करने के बाद बिन्दुबार जवाब दें। राजस्व अधिकारी शाखा प्रभारी लिपिक के उत्तर पर खुद की समीक्षा एवं तथ्यों की टीप उल्लेखित करें और जवाब नहीं आने पर प्रत्येक सात दिवस में स्मरण पत्र भेजें। जिस कार्यालय से शासकीय पत्रों का जवाब अप्राप्त होगा और जो रुचि नहीं लेंगे उनके खिलाफ कार्यवाही होगी।कलेक्टर ने स्वामित्व योजना की समीक्षा करते हुए कहा कि एसडीएम इस योजना का लक्ष्य तय समय पर हासिल करें। उल्लेखनीय है कि स्वामित्व योजना में 2 हजार डिजीटल एन्ट्री होनी हैं। वर्तमान में 500 डिजीटल एन्ट्री की जा चुकी है। 15 अगस्त के पूर्व 52 ग्रामों के नक्शे की कार्यवाही होनी है। कलेक्टर ने एडीएम को निर्देशित किया कि वह एसडीएम से सतत् समीक्षा करते हुए सत्यापित जानकारी लेते रहें।उन्होंने कहा कि पीएम किसान योजना में अपात्रों को दी गई राशि वापस लेते हुए सही शीर्ष में जमा कराएं। जमा कराई गयी राशि की सत्यापित जानकारी एसडीएम अगली बैठक में लेकर उपस्थित रहेंगे। सीएम हेल्पलाइन की समीक्षा करते हुए कलेक्टर ने कहा कि आवेदनों का संतुष्टीपूर्वक निराकरण करें तथा सीएम कार्यालय से प्राप्त पत्रों पर यथासमय तथ्यात्मक जवाब भेजें। इसी तरह सांसद एवं विधायकों से प्राप्त पत्रों के समाधानकारक उत्तर भेजे जाएं। एसडीएम सीमांकन प्रकरणों की समीक्षा सतत् रुप से करें।
लगातार दूसरी टीएल बैठक में अनुपस्थित रहे डीएफओ
कलेक्टर शीलेन्द्र सिंह ने सोमवार 5 जून को टीएल की समीक्षा बैठक में डीएफओ के बिना सूचना के अनुपस्थित रहने पर एडीएम को निर्देशित किया कि विभाग के एसीएस को सूचित करते हुए स्पष्टीकरण लिया जाए और लिए गए स्पष्टीकरण को नश्ती पर प्रस्तुत करें। उल्लेखनीय है कि डीएफओ छतरपुर लगातार दूसरी टीएल बैठक में अनुपस्थित रहे हैं।
जनप्रतिनिधियों की उपस्थिति में कार्यक्रम कराएं
कलेक्टर शीलेन्द्र सिंह ने सीएमएचओ छतरपुर को निर्देश दिए कि स्वास्थ्य सुविधा बेहतर बनाने के लिए सीएसी एवं पीएससी को प्रदाय की गई एडल्ट स्टेथ्ेस्कोप, ग्लूकोमीटर, वेइंग मशीन, पल्स ऑक्सीमीटर, डिजीटल बीपी उपकरण, हीमोग्लोबिन चेक मीटर, एग्जामिनेशन काउच एवं बेडसाइड स्क्रीन इत्यादि सामग्री का लोकार्पण जनप्रतिनिधियों की उपस्थिति में कराएं। उल्लेखनीय है कि छतरपुर जिले में नीति आयोग के फण्ड से जिले की स्वास्थ्य सुविधा को बेहतर बनाने के लिए उक्त सामग्री पहुंचाई गई है।
यथाशीघ्र आकार लेगा ऑक्सीजन प्लांट
कलेक्टर छतरपुर की जानकारी में सिविल सर्जन छतरपुर ने बताया कि जिला चिकित्सालय में निर्मित होने वाला ऑक्सीजन प्लांट की मशीनरी यथाशीघ्र स्टाल की जाएगी। उन्होंने बताया कि जिला चिकित्सालय के लिए 8 वेंटीलेटर की सुविधा उपलब्ध हो चुकी है। वेंटीलेटर भी शीघ्र स्टाल किए जा रहे हैं।

RAM KUMAR KUSHWAHA
भाषा चुने »