Please assign a menu to the primary menu location under menu

Saturday, November 26, 2022
मध्यप्रदेश

कैट व्यापारिक समस्याओं के निराकरण के लिये प्रतिबद्ध: भूपेन्द्र जैन

कैट व्यापारिक समस्याओं के निराकरण के लिये प्रतिबद्ध: भूपेन्द्र जैनकैट व्यापारिक समस्याओं के निराकरण के लिये प्रतिबद्ध: भूपेन्द्र जैन
Visfot News

सागर संभाग के संभागीय सम्मेलन में 6 जिलों के व्यापारियों ने की शिरकत, महिला सुरक्षा और महिला सम्मान कार्यक्रम प्रदेश भर में चलाया जायेगा
छतरपुर। कॉन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) मध्यप्रदेश अध्यक्ष भूपेन्द्र जैन ने कहा है कि व्यापारियों का राष्ट्रीय संगठन कैट व्यापारिक समस्याओं के निराकरण के लिये प्रतिबद्ध है और यही कारण है कि हम देश के 8 करोड व्यापारियों का प्रतिनिधित्व करते हैं। तहसील स्तर पर, जिला स्तर पर, प्रदेश स्तर पर और राष्ट्रीय स्तर पर व्यापारियों को आधुनिक रूप से प्रशिक्षित कर आने वाले समय के अनुसार व्यापार करना सिखाना कैट का कार्य हैं। श्री जैन ने संभागीय सम्मेलन की अध्यक्षता करते हुये कहा कि प्रत्येक जिले में जिला स्तर पर व्यापारियों की थाना स्तरीय समिति गठित होगीे। जिला कलेक्टर की अध्यक्षता में जिला व्यापार सम्बर्धन समिति गठित होंगी और कैट के सदस्यों के लिये एवं जरूरतमंद व्यापारियों के लिये तथा नया व्यापार करने वाले युवाओं के लिये, महिला उद्यमियों के लिये 10 लाख रूपये तक का बिना गारंटी वाला मुद्रा ़ऋण दिलाने के लिये कैट शिविर लगायेगा ताकि लोग लाभान्वित हों।

कैट मध्यप्रदेश अध्यक्ष भूपेन्द्र जैन ने 6 जिलों एवं अन्य तहसीलों के व्यापारियों को सम्बोधित करते हुये कहा कि हम विभिन्न व्यापारिक संगठनों, बाजार एसोसियेशनों सभी के साथ मिलकर इस प्रकार से अपने कार्य का संपादन करेंगे ताकि सशक्त व्यापारिक संगठन की भूमिका कैट निभा सके। संभागीय सम्मेलन के मुख्य अतिथि कैट के सेन्ट्रल जैन चैयरमैन रमेश गुप्ता ने कहा कि व्यापारी सारे राजनैतिक लोगों के लिये सहयोगी भूमिका में कार्य करते हैं। जब भी किसी बाजार में आर्थिक चन्दे की बात होती है, राजनैतिक, सामाजिक, धार्मिक सभी आयोाजनों में व्यापारी का अर्थ लगता है। इसलिये किसी भी जिले के नवागत अधिकारी से हम मिलकर उसका स्वागत सम्मान करें और उसे जिले की व्यापारिक गतिविधियों से परिचित करायें ताकि एक संवाद सेतु स्थापित हो सके। कैट जिला प्रशासन और राजनैतिक जन प्रतिनिधियों के साथ एक सेतु के रूप में कार्य करे। यदि हम उनके साथ बेहतर समन्वय स्थापित करेंगे तो निश्चित रूप से व्यापारियों की समस्याओं का निराकरण भी त्वरित होगा।

प्रदेश संगठन मंत्री श्री गोविन्ददास आसाटी ने प्रदेश भर में संगठन गतिविधियों पर प्रकाश डाला और बताया कि कैट के सिद्धान्तों से व्यापारी जुड रहे हैं और सभी मिलकर प्रदेश को आर्थिक विकास में सहभागी बन रहे हैं। कोविड की कठिन परिस्थितियों में भी अपने व्यापार के साथ सामाजिक और मानव की सेवा में कैट के पदाधिकारी, छतरपुर के व्यापारी और सागर संभाग के समस्त पदाधिकारियों ने उल्लेखनीय कार्य किया है। कार्यक्रम का संचालन करते हुये सागर जिला अध्यक्ष श्री सुरेन्द्र जैन माल्थोन ने सागर संभाग की गतिविधियों से सभी को अवगत कराया। संभागीय सम्मेलन का शुभारम्भ भामाशाह के चित्र पर माल्यार्पण कर अतिथियों द्वारा दीप प्रज्वलित कर किया गया।

महिला उद्यमियों को आगे बढाने एवं महिला सुरक्षा और महिला सम्मान कार्यक्रम के प्रदेश भर में चलाये जाने के लिये राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य श्रीमती कविता जैन ने सम्मेलन को सम्बोधित किया। उद्यम आधार रजिस्ट्रेशन व्यापारी किस प्रकार करायें और एमएसएमई में कैसे शामिल हों इसकी जानकारी कैट कार्यालय प्रभारी प्रियादास ने दी। संभागीय सम्मेलन को प्रदेश कोषाध्यक्ष मनोज चौरसिया, वरिष्ठ उपाध्यक्ष धीरेन्द पटेल, प्रदेश उपाध्यक्ष कपिल मलैया, प्रदेश सचिव बाबूलाल जैन, इन्दौर जिला महामंत्री उमेश तिवारी, मध्यप्रदेश एडवाइजरी बोर्ड के सदस्य मनीष दोसाज, उमेश अग्रवाल ने भी सम्बोधित किया। कार्यक्रम के प्रारंभ में कैट छतरपुर जिला अध्यक्ष महेन्द्र अग्रवाल ने पधारे सभी अतिथियों एवं व्यापारियों का स्वागत करते हुये स्वागत भाषण प्रस्तुत किया छतरपुर जिले के महासचिव मुकेश चौबे ने छतरपुर में कैट की गतिविधियों की विस्तृत जानकारी प्रस्तुत की।

सागर संभाग के इस व्यापारिक संभागीय सम्मेलन में पन्ना से मनोज गुप्ता, अनूप मोदी, सागर से संजय अग्रवाल, दमोह से मानिकचंद सचदेवा, टीकमगढ से महेन्द्र जैन निवाडी से बाबूलाल जैन सहित अनेक व्यापारी उपस्थित थे आनन्द अग्रवाल, ब्रजेश अग्रवाल ने भी सम्मेलन को सम्बोधित किया। इस अवसर पर समाज सेवा में अग्रणी योगदान हेतु वरिष्ठ व्यापारी श्री विनोद टिकरया, सामाजसेबी श्री विपिन अवस्थी एवं वरिष्ठ अधिवक्ता श्री राकेश शर्मा जी का सम्मान किया गया आभार प्रदर्शन कोषाध्यक्ष प्रकाश चन्द्र जैन ने किया अवसर पर सागर संभाग के सभी व्यापारी गण उपस्थित थे।

RAM KUMAR KUSHWAHA
भाषा चुने »