Please assign a menu to the primary menu location under menu

Sunday, September 25, 2022
मध्यप्रदेश

वित्त ने विभागों से पूछा जरूरी काम कितने बाकी कितना चाहिए बजट

Visfot News

भोपाल
वित्त विभाग ने विभागों के अफसरों से पूछा है कि इस वित्तीय वर्ष में उनकी क्या-क्या प्रमुख योजनाएं और जरूरी काम शेष रह गए है और उनके लिए कितने बजट की आवश्यकता है। वित्त विभाग ने आज से बैठकों की शुरुआत कर दी है। कुल 54 विभागों के साथ मैराथन बैठकें होना है। वित्त विभाग के प्रमुख सचिव के निर्देश पर विभिन्न विभागों के वित्त से जुड़े प्रशाासकीय अधिकारियों के साथ बैठकें की जा रही है।

आज पहले दिन औद्योगिक नीति एवं निवेश प्रोत्साहन विभाग, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी,उद्यानिकी एवं खाद्य प्रसंस्करण, अध्यात्म, लोक सेवा प्रबंधन, विमुक्त घुमक्कड़ एवं अर्द्धघुमक्कड़ जनजाति कल्याण विभाग के अफसरों के साथ बैठक बुलाई। वित्त विभाग के उपसचिव रूपेश कुमार पठवार ने औद्योगिक नीति एवं निवेश प्रोत्साहन विभाग के अधिकारियों के साथ चर्चा की।  उपसचिव भास्कर लक्षकार ने विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग के अफसरों से चर्चा की। उपसचिव अभिजीत अग्रवाल ने  उद्यानिकी एवं खाद्य प्रसंस्करण विभाग के अधिकारियों से चर्चा की। वित्त विभाग के उपसचिव एसएलआर दुबे ने अध्यात्म विभाग के अधिकारियों से चर्चा की। वित्त विभाग के उपसचिव ओपी गुप्ता ने लोक सेवा प्रबंधन विभाग के अधिकारियों से चर्चा की। वित्त विभाग के अधिकारियों ने अलग-अलग समय पर विभिन्न विभागों के अधिकारियों से चर्चा की और उनसे विभाग की योजनाओं और इन्फ्रास्ट्रक्चर से जुड़ी मुख्य जरुरतों को लेकर वित्तीय आवश्यकताओं पर चर्चा की।

RAM KUMAR KUSHWAHA
भाषा चुने »