Please assign a menu to the primary menu location under menu

Friday, December 2, 2022
डेली न्यूज़

दो दिन की नवजात बच्ची को थैले में छोडक़र भागे कलयुगी

Visfot News

नोगाव। कहा जाता है बेटी है तो कल है । सरकार भी बेटियों को बचाने के लिए तमाम योजनाए चला रही लेकिन फिर भी बेटियों को जिंदा मरने के लिए छोड़ दिया जाता है। ऐसा ही एक मामला विगत रात यात्री काम्प्लेक्स बस स्टैंड में देखने को मिला जहां एक थैले एक थैले में नवजात बच्ची को छोडक़र चला गया। बस स्टैंड पर पानी बेचने वाले, चने बेचने वाले लडक़ो ने देखा तो उन्होंने बस स्टैंड पर तैनात डायल 108 के पायलट भूपेंद्र सिंह चौहान और ईएमटी प्रमोद खरे को बुलाया। उन्होंने इसकी सूचना 100 डायल को दी। 100 डायल में मौजूद कृष्ण कुमार नायक, आरक्षक विवेक अहिरवार युवकों और नवजात बच्ची को लेकर अस्पताल गए। अस्पताल में डॉ. एमके दीक्षित ने बच्ची का उपचार किया और उसे जिला चिकित्सालय के लिए रिफर कर दिया। डॉ महेश कुमार दीक्षित ने बताया कि बच्ची पूर्ण रूप से स्वस्थ है। उन्होंने बताया कि बच्ची की अच्छी देखरेख जिला अस्पताल की गहन शिशु चिकित्सा इकाई में हो सकेगी इसलिए उसे रिफर किया है। उन्होंने बताया कि बच्ची का जन्म लगभग दो दिन पहले हुआ है।

RAM KUMAR KUSHWAHA
भाषा चुने »