Please assign a menu to the primary menu location under menu

Friday, December 2, 2022
मध्यप्रदेश

फार्मेसी काउंसिल आफ इंडिया में उलझे फार्मेसी कॉलेज, मान्यता और निरंतरता जारी नहीं होने से काउंसलिंग कार्यक्रम स्थगित

Visfot News

भोपाल
फार्मेसी काउंसिल आफ इंडिया (एफसीआई) ने अभी तक फार्मेसी कॉलेजों की मान्यता और निरंतरता जारी नहीं की है। कॉलेजों में दाखिले लेने 15 हजार विद्यार्थी पंजीयन करा चुके हैं। प्रदेश में 116 बीफार्मा और 116 डी फार्मा कॉलेज संचालित हो रहे हैं। मान्यता और निरंतरता जारी नहीं होने से डीटीई ने काउंसलिंग कार्यक्रम स्थगित कर रखा है। 3 अक्टूबर तक कॉलेजों की स्थिति साफ नहीं हुई तो वर्तमान सत्र जीरो घोषित हो सकता है।

 एफसीआई ने वर्तमान सत्र 2022-23 में बीफार्मा और डीफार्मा कॉलेजों में प्रवेश देने के लिए मान्यता और निरंतरता जारी नहीं किया है। इससे राजीव गांधी प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय उन्हें संबद्धता नहीं दे सका है। विभाग ने बीफार्मा और डीफार्मा में प्रवेश देने के लिए करीब 15 हजार विद्यार्थियों के पंजीयन करा लिए हैं। विभाग के पास सिर्फ 70 कॉलेज ही पहुंच सके हैं, जिसके पास करीब छह हजार 800 सीटें मौजूद हैं। एफसीआई ने बैठक जारी कर मिनिट्स जारी कर दिए हैं। इसमें कॉलेजों को प्रवेश देने की स्थिति को साफ नहीं किया गया है। उन्होंने कॉलेजों को प्रवेश देने के लिए स्पष्ट आदेश जारी नहीं किए हैं। इससे विभाग पशोपेश में फंस गया है कि जब तक एफसीआई कॉलेजों को आदेश नहीं देगा तब तक वे कॉलेजों को प्रवेश नहीं देंगे। एफसीआई के लेटलतीफी के कारण कॉलेजों का सत्र जीरो तक हो सकता है। मान्यता नहीं मिलने से कालेज संचालकों में उथल-पुथल की स्थिति बनी हुई है।

तीस नए कॉलेज को मंजूरी
 एफसीआई में प्रदेश से तीस बीफार्मा और पचास डीएफार्मा कॉलेज खोलने के लिए आवेदन किए गए हैं। प्रवेश एवं फीस विनियामक समिति ने उनकी फीस भी निर्धारित कर दी है। यहां तक तकनीकी शिक्षा विभाग से एनओसी तक जारी कर दी है। नए कालेजों के शामिल होने से विभाग 150 कालेजों की काउंसलिंग कराएगा।

इंजीनियरिंग की दूसरा राउंड कल और चलेगा
प्रदेश के 143 इंजीनियरिंग कालेजों में प्रवेश देने तकनीकी शिक्षा विभाग ने करीब 17 हजार विद्यार्थियों को सीटें आवंटित की हैं। विद्यार्थी कल तक प्रवेश ले पाएंगे। अभी तक करीब दस हजार विद्यार्थियों ने प्रवेश लिये हैं। दूसरे राउंड में 17 हजार 154 छात्र-छात्राओं ने रजिस्ट्रेशन कराया है। इसमें 3 हजार 676 जेईई मेंस एवं 13 हजार 478 क्वालिफाई राउंड के शामिल हैं। विभाग ने पहले राउंड में 23 हजार 337 सीटों पर अलाटमेंट जारी किया है। इसमें करीब 17 हजार विद्यार्थियों ने प्रवेश लिये हैं। अभी भी 41 हजार सीटें रिक्त हैं। दूसरे राउंड में भी बेहतर प्रवेश होने के बाद कालेज सीएलसी में आखिरी दांव खेल कर अपनी सीटों पर प्रवेश कराने में लगे हुये हैं।

RAM KUMAR KUSHWAHA
भाषा चुने »