Please assign a menu to the primary menu location under menu

Tuesday, December 6, 2022
देश

हिंदू तथा सिख संगठन धार्मिक स्थल पर बच्ची की मौत तथा मतांतरण के विरोध में एकसाथ, मांगी आरोपितों की गिरफ्तारी

Visfot News

जालंधर
ताजपुर के एक धार्मिक स्थल पर बीमार बच्ची का उपचार करवाने के बजाए उसे प्रार्थना के जरिये स्वस्थ करने का दावा किया गया लेकिन इस चक्कर में उसकी जान चली गई। पिछले दिनों अमृतसर में एक सिख किशोरी के मतांतरण का मामला भी सुर्खियों में रहा था। अब मासूम बच्ची की मौत तथा मतांतरण के विरोध में एकसाथ हिंदू और सिख संगठन उतर आए हैं। उन्होंने मामले की उच्च स्तरीय जांच किए जाने के साथ आरोपितों की गिरफ्तारी की है।

इस मांग को लेकर हिंदू तथा सिख संगठनों ने संयुक्त रूप से बुधवार को एसएसपी शरणदीप सिंह संधू को मांगपत्र दिया। इस दौरान हिंद क्रांति दल से मनोज नन्हा, सिख तालमेल कमेटी से तेजिंदर सिंह परदेसी, हरपाल सिंह चड्ढा, हरप्रीत सिंह नीटू, जन जागृति मंच से किशन लाल शर्मा व धर्म जागरण से राघव सहगल ने कहा कि हिंदू तथा सिख धर्म से संबंधित लोगों का लालच देकर उनका ‌मतांतरण करवाया जा रहा है, जो गंभीर चिंता का विषय है।

उन्होंने दावा किया कि दिल्ली से ताजपुर लाई गई बच्ची को प्रार्थना के माध्यम से स्वस्थ करने का दावा किया गया था। इंटरनेट तथा प्रिंट मीडिया में प्रकाशित हुए समाचार के मुताबिक प्रार्थना के बदले में पीड़ित परिवार से मोटी राशि भी ली गई थी। विडंबना यह है कि घटना के उजागर होने के बाद भी पुलिस ने इसे गंभीरता से नहीं लिया। पूरे मामले में ठोस कार्रवाई किए बगैर परिवार पीड़ित परिवार को दिल्ली भेजना अपने आप में सवाल खड़ा कर रहा है।

साजिशन करवाया जा रहा हिंदू और सिखों का मतांतरण
उन्होंने लालच देकर करवाए जा रहे मतांतरण के खिलाफ आवाज बुलंद की। उन्होंने कहा कि हिंदू तथा सिख लोगों का साजिश के तहत मतांतरण करवाया जा रहा है। इसे रोकने के लिए भी प्रशासन को सख्त कदम उठाने चाहिए। इस पर एसएसपी ने संगठनों की मांग के मुताबिक मामले की जांच करने का आश्वासन दिया।

 

RAM KUMAR KUSHWAHA
भाषा चुने »