Please assign a menu to the primary menu location under menu

Tuesday, December 6, 2022
डेली न्यूज़

पोषण आहार वितरण में सक्रिय हुए माफिया

Visfot News

छतरपुर। जिले के शहरी क्षेत्र में मौजूद आंगनबाड़ी केन्द्रों में पोषण आहार के वितरण का काम हासिल करने के लिए माफियाओं ने एक बार फिर कमर कस ली है। शासन के निर्देश हैं कि इन अंागनबाड़ी केन्द्रों में पोषण आहार वितरण का काम ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में मौजूद स्वसहायता समूहों को ही दिया जाए। ऐसे समूह जिनमें 75 फीसदी से अधिक महिलाएं गरीबी रेखा के नीचे काम करती हों। शासन का उद्देश्य है कि इस योजना के माध्यम से जहां बच्चों को पोषण आहार मिले तो वहीं महिलाओं को रोजगार भी उपलब्ध कराया जाए। शासन की मंशा के विरूद्ध जिले में माफियाओं ने इन केन्द्रों पर कब्जा करने की पहल शुरू कर दी है। मंगलवार को महिला बाल विकास कार्यालय में पोषण आहार वितरण के इच्छुक स्वसहायता समूहों के द्वारा आवेदन किए जाने की आखिरी तारीख थी। कार्यालय से लगभग 102 आवेदन खरीदे गए और इनमें से 88 आवेदन जमा किए गए। जब आवेदन जमा किए जा रहे थे कार्यालय में स्वसहायता समूह की महिलाओं के स्थान पर उनके प्रतिनिधि बनकर कई आहार माफिया नजर आ रहे थे। नियम के मुताबिक महिला प्रतिनिधियों को ही अपने दस्तावेजों के साथ आवेदन करना है लेकिन दस्तावेजों की आड़ लेकर कई पोषण आहार माफियाओं ने 10-10 आवेदन खरीदकर 100-100 केन्द्र लेने की तैयारी कर ली है। एक आवेदन पर 10 केन्द्र दिए जा सकते हैं इसलिए इस काम को लेने के लिए माफियाओं ने स्वसहायता समूह की जरूरतमंद महिलाओं को पीछे धकेल दिया। मंगलवार को ही जिला पंचायत में आवेदनों की जांच की गई।

RAM KUMAR KUSHWAHA
भाषा चुने »