Please assign a menu to the primary menu location under menu

Friday, December 2, 2022
खास समाचारडेली न्यूज़

छत्रसाल शौर्य पीठ पर हुआ शस्त्रों का पूजन

छत्रसाल शौर्य पीठ पर हुआ शस्त्रों का पूजन

छत्रसाल शौर्य पीठ पर हुआ शस्त्रों का पूजनछत्रसाल शौर्य पीठ पर हुआ शस्त्रों का पूजन
Visfot News

छतरपुर। शुक्रवार को विजयादशमी के अवसर पर मऊसहानियां स्थित महाराजा छत्रसाल शौर्य पीठ पर शस्त्र पूजन का कार्यक्रम महाराजा छत्रसाल स्मृति शोध संस्थान द्वारा आयोजित किया गया। कार्यक्रम को कोरोना के नियमों का पालन करते हुए सादगी के साथ संपन्न कराया गया। शौर्य पीठ पर महाराजा छत्रसाल की प्रतिमा के समक्ष वैदिक रीति-रिवाज से शस्त्रों का पूजन किया गया। वहीं उपस्थित जनों ने असत्य पर सत्य की विजय के पर्व दशहरे की शुभकामनाएं दीं।उपस्थित वक्ताओं ने कहा कि विजयादशमी का पर्व अधर्म पर सत्य की जीत का प्रतीक है, जो समाज को सही राह पर चलने की सीख देता है। दशहरा पर्व समाज को धर्म की रक्षा व सत्य के मार्ग पर आगे बढऩे की प्रेरणा देता है ताकि समाज में खुशहाली का वातावरण बने।

उपस्थितिजनों को तिलक लगाकर महाराजा छत्रसाल स्मृति शोध संस्थान के सहसचिव जयदेव सिंह बुंदेला ने सत्कार किया तदोपरंात शस्त्र पूजन हुआ। इस मौके पर संस्थान के सरंक्षक गोविंद सिंह बुंदेला, अध्यक्ष भगवतशरण अग्रवाल, सचिव राधे शुक्ला, उपाध्यक्ष धीरेंद्र शिवहरे, सुशील वैद्य, हर्ष अग्रवाल, अशोक दुबे, नूतन सोनी, गौरव दिक्षित, किशन सिंह, राजबहादुर सिंह, रीतेश कुशवाहा, हरिओम साहू, दीपक साहू, कैलाश साहू, रामलाल कुशवाहा, विनोद रांटिया, सावंत सिंह, पिंटू सिंह, आलोक सोनकिया, अमृतांश पाठक, हरिशंकर द्विवेदी, लव सुल्लेरे, हरिश्चंद्र खटीक, दुष्यंत पाठक, अभिषेक गोस्वामी, देवकीनंदन रिछारिया, चतुर सिंह, पहाड़ सिंह, मन्नू राय, बालकिशन कुशवाहा, अमित जैन सहित बड़ी संख्या में लोग मौजूद रहे।
सिद्धिविनायक नवदुर्गा उत्सव समिति ने भी किया शस्त्र पूजन
छतरपुर शहर के बस स्टैंड पर शस्त्र पूजन का कार्यक्रम सिद्धिविनायक नवदुर्गा उत्सव समिति द्वारा आयोजित किया गया जिसमें वैदिक रीति-रिवाज से शस्त्रों का पूजन हुआ। उपस्थित लोगों ने एक दूसरे को दशहरे की शुभकामनाएं दीं। इस मौके पर तमाम हिंदू संगठनों के प्रतिनिधियों के अलावा के अलावा सिद्धिविनायक नवदुर्गा उत्सव समिति के अध्यक्ष अरविंद गोस्वामी, धीरेन्द्र परिहार, मुन्ना तिवारी, शैलेंद्र कौशिक, धर्मेंद्र नायक, अशोक यादव, संतोष महाराज, अमिताभ सिंह परमार, सोनू राजा, भूपेंद्र सिंह, पिंटू राजा ज्यौराहा आदि मौजूद रहे।

RAM KUMAR KUSHWAHA
भाषा चुने »