Please assign a menu to the primary menu location under menu

Tuesday, December 6, 2022
खास समाचारडेली न्यूज़

भक्तों ने नाच-गाकर मां दुर्गा को किया विदा

भक्तों ने नाच-गाकर मां दुर्गा को किया विदा

भक्तों ने नाच-गाकर मां दुर्गा को किया विदाभक्तों ने नाच-गाकर मां दुर्गा को किया विदा
Visfot News

छतरपुर। नौ दिनों तक पूरे जिले में नवरात्रि महोत्सव की धूम रही। शुक्रवार को विजयादशमीं के अवसर पर पूरे जिले के विभिन्न जलाशयों पर देवी प्रतिमाओं का भक्तों ने विसर्जन किया। इस दौरान पुलिस और प्रशासन की चाक-चौबंद व्यवस्था रही। सभी घाटों पर तैनात अमले ने पूरी सतर्कता के साथ प्रतिमाओं का शांतिपूर्ण ढंग से विसर्जन कराया।
जिला मुख्यालय की प्रतिमाओं का विसर्जन शहर से लगे बूढ़ाबांध, मऊसहानियां के जगत सागर तालाब, धसान नदी सहित अन्य छोटे तालाबों में किया गया जहां पुलिस और प्रशासन के अधिकारी अपने अमले के साथ तैनात रहे। श्रद्धालुओं को प्रतिमाओं के विसर्जन में किसी भी प्रकार की समस्या न हो इसका पूरा ध्यान रखा गया। पुलिस ने विसर्जन समारोह में नशा करके शामिल होने वाले असमाजिक लोगों की भी जांच की।
चौकस व्यवस्था के बीच पहाड़ी बांध में हुआ विसर्जन
अलीपुरा। क्षेत्र की लगभग 4 दर्जन प्रतिमाओं का विसर्जन शुक्रवार को हवन-पूजन के बाद पहाड़ी बांध में किया गया। पुलिस व्यवस्था के बीच जुलूस निकला। एसडीओपी कमल जैन एवं अलीपुरा थाना प्रभारी डीडी शाक्य की पुलिस व्यवस्था के बीच पहाड़ी बांध पर विसर्जन की समुचित व्यवस्था की गई थी। पुलिस ने किसी भी व्यक्ति को बांध के पास नहीं जाने दिया। प्रतिमाओं लेकर पहुंचे भक्तों ने नाच-गाकर मां को विदा किया। मछुआ समुदाय के लोगों द्वारा प्रतिमाओं को बांध में विसर्जित किया जा रहा था।
जवारों के साथ हुआ मूर्तियों का विसर्जन
बमीठा। जवारों के साथ मां दुर्गा की मूर्तियों का विसर्जन शांतिपूर्ण तरीके से किया गया। क्षेत्र के टोरियाटेक, लालर घाट और केन नदी में मूर्तियां वसिर्जित हुईं। विसर्जन के दौरान कोई अप्रिय घटना न हो इसलिए राजस्व अमला और पुलिस बल नगर सेना के गोताखोरों के साथ प्रत्येक घाट पर तैनात था। इसके अलावा हर घाट पर 5 से 6 कोटवार और नाव की व्यवस्था भी की गई थी। भीड़ को घाट से एक फलांग की दूरी पर रोका गया। मूर्ति के साथ मात्र 5 से 6 लोगों को हो पानी तक जाने दिया गया। इस मौके पर नायब तहसीलदार राजनगर विजयकांत त्रिपाठी, चौकी प्रभारी चंद्रनगर बीरेन्द्र रैकवार, आरआई श्री साहू मौजूद रहे।
पचेर घाट पर विसर्जित की गईं प्रतिमाएं
ईशानगर से निकली धसान नदी के पचेर घाट पर बड़ी संख्या में प्रतिमाओं का विसर्जन हुआ। सुबह 10 बजे से विजर्सन शुरू हुआ जो देर शाम तक चलता रहा। विसर्जन के पूर्व पंडालों में विशेष पूजा-अर्चना की गई। विसर्जन समारोह में जमकर देवी मां के जयकारे लगे। ईशानगर के महावीरन मंदिर, रैकवार मुहल्ला, बस स्टैंड, श्रीराम कालोनी, रामपुर रोड़, पठादा रोड़ होते हुए विसर्जन के लिए प्रतिमाएं धसान नदी पहुंची। तहसीलदार अभिनव शर्मा, थाना प्रभारी कमल सिंह सेंगर आदि व्यवस्था बनाने के लिए घाट पर अपने अमले के साथ मौजूद रहे।

RAM KUMAR KUSHWAHA
भाषा चुने »