Please assign a menu to the primary menu location under menu

Tuesday, December 6, 2022
डेली न्यूज़

10 स्थानों पर सीबीआई की छापामार कार्यवाही हुई

10 स्थानों पर सीबीआई की छापामार कार्यवाही हुई

10 स्थानों पर सीबीआई की छापामार कार्यवाही हुई10 स्थानों पर सीबीआई की छापामार कार्यवाही हुई
Visfot News

खजुराहो। पर्यटन नगरी खजुराहो में हाल ही में स्थानांतरित होकर आए वरिष्ठ संरक्षण सहायक राजेश जौहरी पूर्व में गुजरात में कार्यरत थे। सीबीआई ने गत मंगलवार को अहमदाबाद, खजुराहो के अलावा 10 स्थानों पर छापामार कार्यवाही की थी। छापे के दौरान सीबीआई को करीब साढ़े 6 किलो वजनी चांदी की ईंटें, पौने 27 लाख नगद रूपए और कुछ दस्तावेज हाथ लगे थे। सीबीआई के छापे के बाद भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण के अधिकारियों ने दो से तीन दिन रूककर जांच की। हालांकि श्री जौहरी के पिछले पांच दिनों से छुट्टी पर रहने की जानकारी मिल रही है। वहीं अधिकारियों के दौरे को निजी बताया जा रहा है। सूत्रों ने बताया कि भारतीय पुरातत्व विभाग दिल्ली में पदस्थ एडीजी अजय यादव तथा भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण जबलपुर सर्किट के अधीक्षण पुरातत्वविद देवदत्त बाजपेयी पिछले दो-तीन दिनों से पर्यटन नगरी में डेरा जमाए थे।

उन्होंने कार्यालय तथा अन्य पुरातत्व महत्व के स्थानों का निरीक्षण किया। रेस्ट हाउस में रूकने के बाद वे रविवार को खजुराहो से रवाना हो गए। कुछ माह पूर्व खजुराहो स्थानांतरित होकर आए वरिष्ठ संरक्षण सहायक राजेश जौहरी चर्चा में है। श्री जौहरी का नाम 2006 में गुजरात में हुए एक घोटाले में सामने आया था जिसकी जांच सीबीआई कर रही है। सूत्रों का कहना है कि बीते मंगलवार को सीबीआई ने खजुराहो में छापा मारा था और श्री जौहरी से पूछताछ की थी। ऐसे कयास लगाए जा रहे हैं कि सीबीआई के छापे के बाद एएसआई के अधिकारी खजुराहो आए हैं। पुरातत्व महत्व के स्थानों के आसपास अवैध निर्माण की स्वीकृति दिए जाने को लेकर विभाग द्वारा सतर्कता एवं सक्रियता दिखाई जा रही है। चूंकि ऐतिहासिक स्थापत्य महत्व के संरक्षित स्मारकों के समीप अवैध निर्माण की इजाजत दिए जाने को लेकर छापामार कार्यवाही की गई थी। गुजरात के पुराने अहमदाबाद में कुकीबीबी ऐतिहासिक स्मारक के संरक्षित क्षेत्र में अवैध निर्माण से जुड़े मामले में मेसर्स रिद्धिसिद्धि इंटरप्राइजेज अहमदाबाद के हिस्सेदार रमेश परमार, एएसआई बड़ोदरा सर्किल के तत्कालीन अधीक्षण आर्कियोलॉजिस्ट शिवानंदा राव, तत्कालीन संरक्षण सहायक राजेश जौहरी, एएसआई बड़ोदरा सर्किल के आरिफ अली अगारिया, एनएमए के अधिकारी रवि कुमार सहित 6 लोगों को सीबीआई ने आरोपी बनाया है।

RAM KUMAR KUSHWAHA
भाषा चुने »