Please assign a menu to the primary menu location under menu

Saturday, November 26, 2022
खास समाचारमध्यप्रदेश

मप्र में तीन चरणों में होंगे पंचायत चुनाव

मप्र में तीन चरणों में होंगे पंचायत चुनाव

मप्र में तीन चरणों में होंगे पंचायत चुनावमप्र में तीन चरणों में होंगे पंचायत चुनाव
Visfot News

भोपाल। मध्य प्रदेश में पंचायत चुनाव नवंबर-दिसंबर में कराए जा सकते हैं। राज्य निर्वाचन आयोग ने अपने स्तर पर चुनाव की तैयारी कर ली है। एक दौर की बैठक भी हो चुकी है। अब इसे अंतिम रूप दिया जा रहा है। इसी के मद्देनजर जिलों में मैदानी तैयारियों को लेकर राज्य निर्वाचन आयुक्त बसंत प्रताप सिंह ने गुरुवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से गुरुवार को समीक्षा की। इस दौरान उन्होंने कहा कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण नियंत्रण है। त्रिस्तरीय पंचायत के चुनाव कराने में अब कोई परेशानी नहीं है। हमारे स्तर पर तैयारी हो चुकी हैं। चुनाव तीन चरणों में कराए जाएंगे। सभी जिले मतदान केंद्रों का भौतिक सत्यापन कराने के साथ संवेदनशील और अति संवेदनशील केंद्रों की सूची तत्काल भेजें। जिन मतदान केंद्रों तक पहुंचने के लिए मार्ग ठीक नहीं है, उन्हें दुरुस्त कराया जाए।उन्होंने कलेक्टरों से चुनाव की तैयारियों की जानकारी लेने के बाद कहा कि ऐसे मतदान केंद्र जहां मतदाताओं की संख्या साढ़े सात सौ से अधिक है, वहां अतिरिक्त मतदानकर्मी नियुक्त किया जाए। मतदान कर्मियों का चिन्हित करके उन्हें प्रशिक्षण दिए जाने का कार्य प्रारंभ किया जाए। इसमें इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन के संचालन से लेकर चुनाव प्रक्रिया से जुड़ी सभी जानकारियां दी जाए। जिला और जनपद पंचायत के सदस्य का चुनाव इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन और सरपंच व पंच का चुनाव मतपत्र से कराया जाएगा। मतदान केंद्रों का भौतिक सत्यापन कलेक्टर करा लें। यदि किसी केंद्र का स्थान परिवर्तन किया जाना है तो औचित्य सहित उसका प्रस्ताव भेजा जाए।
व्यवस्थाएं दुरूस्त करने के निर्देश
मतदान केंद्र में बिजली आदि की व्यवस्था अभी से सुनिश्चित कर ली जाए। मार्च 2022 तक पंचायतों में रिक्त होने वाले पदों की जानकारी भी देने के लिए कहा गया है। माना जा रहा है कि खंडवा संसदीय क्षेत्र सहित पृथ्वीपुर, जोबट और रैगांव विधानसभा क्षेत्र के उपचुनाव के बाद जिला पंचायत पद के आरक्षण की प्रक्रिया पूरी कर ली जाएगी। इसके बाद राज्य निर्वाचन आयोग चुनाव की घोषणा कर देगा। एक जनवरी 2020 की मतदाता सूची के आधार पर चुनाव कराए जाएंगे। बैठक में उपचुनाव वाले जिले खंडवा, खरगोन, देवास, बुरहानपुर, टीकमगढ़, निवाड़ी और सतना के कलेक्टर मौजूद नहीं थे।
सभी पंचायतों का होगा चुनाव
सिंह ने कहा कि प्रदेश की सभी जिला पंचायत, जनपद पंचायत और ग्राम पंचायतों, जिनका कार्यकाल पूरा हो चुका है और जिनका मार्च 2022 तक पूरा हो रहा है, का निर्वाचन करवाया जाएगा। मतदान तीन चरणों में होगा। सेक्टर और जोनल अधिकारी की नियुक्ति कर उन्हें निर्वाचन के दौरान विशेष कार्यपालिक दण्डाधिकारी शक्तियां देने का प्रस्ताव शीघ्र भेजें।
संवेदनशील मतदान केंद्रों को चिन्हांकित करें
राज्य निर्वाचन आयुक्त ने कहा कि जिले के संवेदनशील और अतिसंवेदनशील मतदान केन्द्रों को चिन्हांकित कर आवश्यक सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित करें। प्रत्येक रिटर्निंग ऑफिसर स्तर पर ऑलीन सुविधा केन्द्र की स्थापना करें। जिला पंचायत सदस्य, जनपद पंचायत सदस्य एवं सरपंच पद के लिए नाम निर्देशन-पत्र ऑफलाइन के साथ ही ऑनलाइन भरने का भी प्रावधान किया गया है। जिला पंचायत सदस्य एवं जनपद पंचायत सदस्य के लिए मतदान ईवीएम और सरपंच- पंच के लिए मतदान मतपत्र के माध्यम से होगा।

RAM KUMAR KUSHWAHA
भाषा चुने »