Please assign a menu to the primary menu location under menu

Tuesday, May 28, 2024
छत्तीसगढ़

धन्वंतरी जेनेरिक मेडिकल योजना बनी जीवनदायनी

Visfot News

महासमुन्द

धन्वंतरी जेनेरिक मेडिकल स्टोर्सछत्तीसगढ़ के नागरिकों को उचित मूल्य पर जेनेरिक दवाईयां एवं सर्जिकल सामान, उपलब्ध कराने के लिये धन्वंतरी जेनेरिक मेडिकल स्टोर्स की स्थापना बीते वर्ष 2021 में आज ही के दिन की गई है। जिसे आज 20 अक्टूबर को पूरे एक साल हो गये। इन एक साल में महासमुंद जिले में स्थापित 6 इन धन्वंतरी मेडिकल स्टोर्स से 35646 नागरिकों को ख्याति प्राप्त कंपनियों की 56 लाख 80 हजार 412 रुपए बाजार मूल्य की दवाईयों पर 31 लाख 17 हजार 959 रुपए की छूट देते हुए लाभान्वित किया गया है। दवाईयाँ, सर्जिकल सामान कम कीमत पर ख?ीदा। यह योजना नहीं होती तो ख?ीदी गयी दवाइयाँ उन्हें 57 लाख 80 हजार रुपये की मिलती। यानी कि इन लाभार्थियों को 31 लाख रुपये की बचत हुई। जो ये बचत राशि उनके अन्य जरूरत के काम में आ रही है। अब तक सबसे अधिक 14875 नागरिक दवाइयाँ लेने पहुँचे। वही पिथौरा में 9129 नागरिक मेडिकल से दवाइयाँ लेने आये। तुमगांव में 5452,सरायपाली में 3271, बागबाहरा में 1812 और बसना जेनेरिक दवाईयां लेने पहुँचे।

आज महासमुंद के धन्वंतरी मेडिकल स्टोर पर दवाइयाँ लेने आए शुभम्  मिश्रा ने बताया कि वह परसेटामोल टेबल, विटामिन और आयराइन की टेबल लेने आये तो उन्होंने चर्चा में बताया कि उन्हें सर्दी है मौसमी बीमारी में अन्य मेडिकल पर 400-450 की दवाइयाँ यहाँ 160-170 में मिल गयी थी। अब वह और उनके परिजन, दोस्त अन्य पड़ौसी भी बीमारी की दवाइयाँ यही से ख?ीदते है। कुछ दवाइयाँ नहीं मिल पाती पर जरूरत की दवाइयाँ कम कीमत पर मिल जाती है। वही मोहम्मद अपनी माँ के लिए दवाइयाँ लेने पहुँचे उन्होंने भी धन्वंतरी मेडिकल को ग?ीबों के लिए जीवनदायनी बताया। तो बागबाहरा की सर्दी बुखार से पीड़ित सावित्री साहू ने बताया कि दूसरे मेडिकल पर बहुत महँगी दवाइयाँ देते है लेकिन यहाँ वही दवाई कम कीमत पर मिल रही है। इससे पैसे की भी बचत हो रही है। स्टोर्स के संचालक का कहना था कि इस वर्ष मौसमी बीमारी की दवाइयाँ काफी पीड़ित लोग लेने आये। जो दवाइयाँ उपलब्ध नहीं होती उन्हें बाद में लेकर उपलब्ध करा दिया जाता है।

RAM KUMAR KUSHWAHA
भाषा चुने »