Please assign a menu to the primary menu location under menu

Saturday, November 26, 2022
मध्यप्रदेश

नेहरू युवा केंद्र से जुड़ कर सामाजिक कार्य करते रहें- सुअनुसुईया उइके

Visfot News
  • छत्तीसगढ़ की राज्यपाल ने युवाओं को सम्मानित किया
  • आध्यात्म भारतीय संस्कृति की रीढ़ – संस्कृति मंत्री सुठाकुर
  • ने.यु.के. स्वर्ण जयंती वर्ष पर हुआ सम्मान समारोह

भोपाल

आप भाग्यशाली हैं कि नेहरू युवा केंद्र से जुड़ कर सामाजिक कार्य कर रहे हैं, जो लोग मानवीय संवेदना के साथ नि:स्वार्थ भाव से समाज और राष्ट्र की सेवा करते हैं, देश उन्हें हमेशा सम्मान देता है। छत्तीसगढ़ की राज्यपाल सुअनुसुईया उइके आज मध्यप्रदेश जल एवं भूमि प्रबंध संस्थान (वाल्मी) में नेहरू युवा केंद्र के स्वर्ण जयंती वर्ष के उपलक्ष्य में युवा संवाद : इंडिया @2047 एवं सम्मान समारोह को संबोधित कर रही थी। राज्यपाल सुउइके ने उपस्थित सभी को नेहरू युवा केंद्र के 50 वर्ष पूर्ण होने पर बधाई और शुभकामनाएँ दी। उन्होंने छत्तीसगढ़िया सबले बढ़िया की बात कहते हुए नेहरू युवा केंद्र, भोपाल से जुड़े युवाओं को छत्तीसगढ़ आने का आमंत्रण भी दिया।

राज्यपाल सुउइके ने कहा कि युवा जितने अधिक जिम्मेदार होंगे और निष्ठा के साथ अपने कर्त्तव्यों का निर्वहन करेंगे, देश उतना ही सशक्त और विकास पथ पर आगे बढ़ेगा। उन्होंने युवाओं से कहा कि डिग्रियाँ लेना हमारा एकमात्र उद्देश्य नहीं होना चाहिए। व्यवहारिक ज्ञान और आचार, विचार, संस्कार का भी व्यक्तित्व निर्माण में बड़ी भूमिका है।

सुअनुसुईया उइके ने अपने विद्यार्थी जीवन के अनुभव साझा करते हुए कहा कि मैं एन.एस.एस, एन.सी.सी. जैसे युवा कार्यक्रमों से प्रभावित रही हूँ और यही मेरे छात्र राजनीति में सक्रियता का कारण रहा। इससे मैंने नेतृत्व क्षमता के गुण सीखें और युवाओं को समाज-सेवा के प्रति जागरूक करने का कार्य किया। उन्होंने कहा कि युवाओं में यह भावना नहीं होनी चाहिए कि कोई कार्य छोटा है या बड़ा, बल्कि हमें राष्ट्र हित को सर्वोपरि मानते हुए अपने दायित्वों का पालन करना चाहिए।

राज्यपाल सुउइके ने कहा कि भारत स्काउट गाइड्स, एन.सी.सी., एन.एस.एस. और नेहरू युवा केन्द्र जैसे संगठनों ने युवाओं में धैर्य, अनुशासन, सृजनात्मकता, सहयोग और परोपकार की भावना विकसित करने में अतुलनीय योगदान दिया है। नेहरू युवा केन्द्रों के साथ जुड़े युवा न केवल जागरूक और प्रेरित हैं बल्कि स्वैच्छिक प्रयासों से सामाजिक विकास के कार्यों में संलग्न हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में देश के समग्र विकास के लिए अनेक महत्वपूर्ण योजनाओं का संचालन किया जा रहा है, जिसमें भारत के युवा ऊर्जा की सर्वोच्च भागीदारी भी है और उनकी क्षमता का राष्ट्रहित में उपयोग करने का संकल्प भी पूरा किया जा रहा है। नेहरू युवा केन्द्र संगठन से युवाओं ने फिट इंडिया मूवमेंट, कोविड-19 महामारी, एक भारत श्रेष्ठ भारत, स्वच्छ भारत मिशन, जल शक्ति अभियान, राष्ट्रीय एकता शिविर, नमामि गंगे जैसे महत्वपूर्ण अभियानों में अपनी सहभागिता दी है। उन्होंने कहा कि देश के युवा संगठन राष्ट्र-कल्याण के अपने कार्यों को प्रतिबद्धता के साथ अनवरत् जारी रखें। उन्होंने सम्मानित होने वाले सभी युवाओं को बधाई और शुभकामनाएँ दी।

संस्कृति, पर्यटन और धार्मिक न्यास एवं धर्मस्व मंत्री सुऊषा ठाकुर ने कहा कि नेहरू युवा केंद्र से युवा अपनी ऊर्जा को सकारात्मक एवं रचनात्मक कार्यों में लगाते हैं। युवाओं ने हर कठिन समय में आगे आकर अपनी भूमिका का निर्वहन किया है। उन्होंने कहा कि आध्यात्म भारतीय संस्कृति की रीढ़ है।

विशेष अतिथि अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक मनीष शंकर शर्मा ने रामचरितमानस के उदाहरणों से व्यक्तित्व निर्माण के बारे में समझाया। नगर निगम भोपाल के अध्यक्ष किशन सूर्यवंशी, राष्ट्रीय युवा पुरस्कार चयन समिति के सदस्य राहुल कोठारी ने भी युवाओं को संबोधित किया। स्वागत उद्बोधन उपनिदेशक डॉ. सुरेंद्र शुक्ला ने एवं राज्य निदेशक आरएन त्यागी ने आभार माना। संचालन राष्ट्रीय पुरस्कार प्राप्तकर्ता शुभम चौहान ने किया।

नेहरू युवा केंद्र के स्वर्ण जयंती वर्ष में उल्लेखनीय कार्य करने वाले युवाओं और संस्थाओं को भी सम्मानित किया गया। सम्मानित होने वालों शुभम चौहान, अनुभव दुबे, तनिष्का हथवलने, डॉ. रविंद्र ठाकुर, डॉ. सारिका सिंह, चंद्र मोहन त्यागी, प्रीति गुप्ता, डॉ. चरणजीत कौर, शंकर यादव सहित दूरदर्शन एवं आकाशवाणी की संयुक्त निदेशक पूजा पी वर्धन शामिल है।

राज्यपाल सुअनुसुईया उइके ने वाल्मी परिसर में पौध-रोपण किया एवं वाल्मी द्वारा पर्यावरण संरक्षण के क्षेत्र में किए जा रहे कार्यों की प्रदर्शनी का अवलोकन किया। वाल्मी की संचालक श्रीमती उर्मिला शुक्ला, प्रशासनिक अधिकारी विकास अवस्थी सहित नेहरू युवा केंद्र के अधिकारी एवं युवा उपस्थित रहे।

 

RAM KUMAR KUSHWAHA
भाषा चुने »