Please assign a menu to the primary menu location under menu

Tuesday, December 6, 2022
खास समाचारमध्यप्रदेश

देश में पहली बार पेट्रोल 120 और डीजल 110 रुपये लीटर के करीब

केंद्र सरकार ने पेट्रोल पर 5 और डीजल पर 10 रुपये एक्साइज ड्यूटी कम कीकेंद्र सरकार ने पेट्रोल पर 5 और डीजल पर 10 रुपये एक्साइज ड्यूटी कम की
Visfot News

नई दिल्ली। पेट्रोल-डीजल की कीमतें तगातार तीसरे दिन बढ़ी हैं। देश में पहली बार पेट्रोल 120 और डीजल 110 के करीब पहुंच गया है। राजस्थान के श्रीगंगानगर में पेट्रोल 119.05 रुपये और डीजल 109.88 रुपये प्रति लीटर के करीब पहुंच गया है। आज शुक्रवार, 22 अक्टूबर को घरेलू तेल कंपनियों ने के लिए पेट्रोल-डीजल के नए रेट जारी कर दी हैं। दिल्ली में आज एक बार फिर पेट्रोल की कीमतों में 35 पैसे की बढ़ोतरी हुई है, जबकि डीजल भी 35 पैसे महंगा हुआ है। दिल्ली में पेट्रोल अब 106.89 रुपये प्रति लीटर हो गया है तो डीजल 95.62 रुपये प्रति लीटर। मुंबई में पेट्रोल 112.78 पैसे प्रति लीटर की दर से बिक रहा है तो डीजल 103.63 रुपये प्रति लीटर बिक रहा है। राजस्थान के श्रीगंगानगर में ही दाम क्यों सबसे ज्यादा है, जबकि राजस्थान के अन्य शहरों में काफी कम रेट है। राजस्थान देश में पेट्रोल और डीजल पर सबसे अधिक रेट से वैट लगाता है।

श्रीगंगानगर में सबसे ज्यादा महंगा पेट्रोल होने का कारण ट्रांसपोर्टेशन है, ट्रांसपोर्ट के खर्चे के वजह से पेट्रोले के दाम बढ़ रहे हैं। दरअसल, पहले हनुमानगढ़ में डिपो था, जो सितंबर, 2011 में बंद हो गया है. इसके बाद से अब पेट्रोल जयपुर, जोधपुर, भरतपुर से पेट्रोल मंगाना पड़ता है और इससे ट्रांसपोर्ट का खर्चा बढ़ जाता है। इससे करीब 5 रुपये प्रति लीटर के हिसाब से पेट्रोल के दाम बढ़ जाते हैं। यह पैसा कंपनी नहीं देती है, बल्कि इसे ग्राहकों से वसूला जाता है। दरअसल विदेशी मुद्रा दरों के साथ अंतरराष्ट्रीय बाजार में क्रूड की कीमत के आधार पर रोज पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बदलाव होता है। ऑयल मार्केटिंग कंपनियां कीमतों की समीक्षा के बाद रोज़ाना पेट्रोल और डीजल के रेट तय करती हैं। इंडियन ऑयल , भारत पेट्रोलियम और हिंदुस्तान पेट्रोलियम रोज़ाना सुबह 6 बजे पेट्रोल और डीजल की दरों में संशोधन कर जारी करती हैं।

RAM KUMAR KUSHWAHA
भाषा चुने »