Please assign a menu to the primary menu location under menu

Tuesday, December 6, 2022
खास समाचार

सूरज हीरा फाउन्डेशन मेहसाणा गुजरात की मदद से आधुनिक, 30 बिस्तर का कोविड केयर सेंटर एवं आईसीयू लोकार्पित

Visfot News

छतरपुर। गुजरात की सामाजिक संस्था सूरज हीरा फाउण्डेशन ने नौगांव के टीबी अस्पताल के भवन को जिला प्रशासन के सहयोग से गोद लेकर इसे 30 बिस्तर के कोविड आईसीयू में तब्दील करने की घोषणा की थी। 3 मई को फाउण्डेशन के अध्यक्ष धर्मेन्द्र लटौरिया द्वारा की गई घोषणा में उन्होंने यहां फाउण्डेशन की ओर से लगभग दो करोड़ रूपए की चिकित्सा सामग्री भेजने की बात कही थी। घोषणा के बाद उन्होंने लगभग 50 लाख रूपए की सामग्री भेजकर इसे टीबी अस्पताल भवन में रखवा दिया लेकिन 3 मई से 23 जून तक यहां बनाए गए कोविड केयर सेंटर का तीन बार लोकार्पण कराया जा चुका है। हालांकि अब भी मौजूद सामग्री के दम पर यह सिर्फ कोविड केयर सेंटर है। इस सेंटर में न तो वेंटीलेटर आए हैं न ही पैथालॉजी से जुड़ी मशीनें और न ही एंबुलेंस। नौगांव की जनता तीसरी लहर के पहले अपने यहां 30 बिस्तर के सर्वसुविधायुक्त कोविड आईसीयू वार्ड का इंतजार कर रही है। स्थानीय लोग चाहते हैं कि सूरज हीरा फाउण्डेशन अपनी घोषणा के अनुरूप जल्द से जल्द शेष बची डेढ़ करोड़ रूपए की सामग्री भेजे एवं जिला प्रशासन यहां स्टाफ का इंतजाम करे।
सामग्री आने में हो रही देरी, बार-बार हो रहा लोकार्पण
सूरज हीरा फाउण्डेशन के धर्मेन्द्र लटौरिया के द्वारा क्षेत्र में सामाजिक सेवा के लिए अनेक घोषणाएं की गई हैं। लोगों को उनकी घोषणाओं के वास्तविक होने की उम्मीद है। हालांकि पिछले डेढ़ महीने में हो रही देरी लोगों की चिंता बढ़ा रही है। गौरतलब है कि फाउण्डेशन के द्वारा 3 मई को घोषणा करने के बाद 12 मई को भोपाल में भाजपा प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा के द्वारा हरी झण्डी दिखाकर लगभग 50 लाख रूपए की सामग्री भेजी गई थी। 13 मई को कलेक्टर यहां पहुंचे थे तब उनकी मौजूदगी में कार्यक्रम आयोजित किया गया था। 14 मई को जब प्रदेश के गृहमंत्री जिले के दौरे पर आए तब वे भी नौगांव पहुंचे और उन्होंने भी इस कोविड सेंटर को लोकार्पण किया था। 23 जून को एक बार फिर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भोपाल से ऑनलाइन इस कोविड सेंटर का शुभारंभ किया। मुख्यमंत्री के पास भेजी गई जानकारी के आधार पर उन्होंने भी इसे कोविड केयर सेंटर एवं कोविड आईसीयू वार्ड बताया जबकि मेडिकल जानकारों के मुताबिक आईसीयू में तब्दील होने के लिए फिलहाल यहां काफी संसाधनों की कमी है। फाउण्डेशन द्वारा भेजी गई सामग्री में 10 जम्बो सिलेण्डर, 7 लीटर वाली 10 ऑक्सीजन कंसट्रेटर मशीनें, 30 सेमी फोल्डर बेड, ऑक्सीजन फ्लोमीटर, बेडशीट, गद्दा कवर, जनरेटर, वाटर कूलर, सेनेटाइजर, ड्रिप स्टेंड, 4 ए.सी. सहित लगभग 50 लाख रूपए की सामग्री शामिल है। हालांकि उनकी घोषणा के मुताबिक अब भी 10 वेंटीलेटर, 4 एंबुलेंस, इन्वेस्टीगेशन के लिए पैथालॉजी मशीनें, 10 ऑक्सीजन कंसटे्रटर, 40-40 छोटे बड़े सिलेण्डर, सेंट्रल ए.सी., सेंट्रल ऑक्सीजन सप्लाई सिस्टम की पूर्ति होना शेष है।

RAM KUMAR KUSHWAHA
भाषा चुने »