Please assign a menu to the primary menu location under menu

Friday, December 2, 2022
बिज़नेस

बिसलेरी के पानी में अब टाटा का स्वाद, ₹7000 करोड़ में फाइनल होगी डील!

Visfot News

नई दिल्ली 

टाटा ग्रुप की कंपनी-टाटा कंज्यूमर प्रोडक्ट्स लिमिटेड जल्द ही बिसलेरी इंटरनेशनल का अधिग्रहण कर सकती है। इकोनॉमिक टाइम्स अखबार के मुताबिक यह डील ₹7000 करोड़ में फाइनल होने की उम्मीद है। रिपोर्ट में पैकेज्ड वॉटर मेकर बिसलेरी के चेयरमैन रमेश चौहान का हवाला देते हुए यह जानकारी दी गई है। 

हालांकि, टाटा कंज्यूमर प्रोडक्ट्स और बिसलेरी ने अब तक आधिकारिक जानकारी नहीं दी है। बाजार के जानकारों की मानें तो डील फाइनल होने के बाद टाटा ग्रुप की कंपनी पानी के मार्केट में सबसे बड़े खिलाड़ी के तौर पर उभर सकती है। बता दें कि टाटा समूह का कंज्यूमर कारोबार टाटा कंज्यूमर प्रोडक्ट्स लिमिटेड (टीसीपीएल) के तहत आता है। यह हिमालयन ब्रांड के तहत और हाइड्रेशन सेगमेंट में टाटा कॉपर प्लस वाटर और टाटा ग्लूको जैसे ब्रांडों के साथ पैकेज्ड मिनरल वाटर भी बेचता है।

कितना बड़ा बाजार: मार्केट रिसर्च और एडवाइजरी TechSci रिसर्च की एक रिपोर्ट के मुताबिक वित्त वर्ष 2021 में भारतीय बोतलबंद पानी का बाजार 2.43 बिलियन अमेरिकी डॉलर (लगभग ₹19,315 करोड़) से अधिक आंका गया था। रिपोर्ट में कहा गया है कि बोतलबंद पानी उपभोक्ताओं के बीच लोकप्रियता हासिल कर रहा है। इसे बाजार में खुले सामान्य पानी की तुलना में अधिक स्वच्छ माना जाता है। खुले पानी को स्वास्थ्य के लिए अच्छा नहीं माना जाता है और यह पीने के लिए भी असुरक्षित है।

दूसरी कंपनियां भी मार्केट में: बोतलबंद पानी के मार्केट में कोका-कोला इंडिया सहित कई कंपनियां अपने ब्रांड के साथ टक्कर दे रही हैं। कोका-कोला की किनले, पेप्सिको की एक्वाफिना, पार्ले एग्रो की बेली और इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कॉरपोरेशन (आईआरसीटीसी) की रेल नीर की उपस्थिति है। हालांकि, ये सभी मार्केट लीडर बिसलेरी से पीछे हैं।
 

RAM KUMAR KUSHWAHA
भाषा चुने »