Please assign a menu to the primary menu location under menu

Friday, December 2, 2022
मध्यप्रदेश

शुक्र तारा उदित कल से फिर गूंजेगी शहनाई, बैंड-बाजा और बारात का शोर

Visfot News

भोपाल

पिछले तकरीबन साढ़े चार माह से विवाह कार्यों पर लगा विराम खत्म हो जाएगा और शुक्रवार से शहर में एक बार फिर जगह-जगह बैंड, बाजा, बारात का नजारा दिखाई देगा। विवाह मुहूर्तों के लिए गुरु और शुक्र का उदित होना जरूरी माना गया है। अब तक शुक्र अस्त के कारण विवाह मुहूर्त शुरू नहीं हो पाए थे। अब शुक्र तारा उदित हो चुका है ,इसके बाद 25 नवम्बर से शहनाई की गूंज सुनाई देने लगेगी। इस साल नवम्बर में 3 दिन तो दिसम्बर में 6 दिन लग्न मुहूर्त रहेंगे। नवंबर- 25, 26 और 27, दिसम्बर- 2,3,4,7,8 और 15 को विवाह मुहूर्त है।  इधर विवाह मुहूर्त शुरू होने के बाद 15 दिसम्बर से 15 जनवरी तक विवाह कार्यों पर एक माह का विराम लगेगा। धनु की संक्रांति के कारण विवाह कार्य नहीं होंगे।

2 महीने में 3 हजार शादियां होंगी
पंडितों के अनुसार जब सूर्य धनु राशि में होते हैं, उस दौरान विवाह कार्य नहीं किए जाते हैं। 15 जनवरी से सूर्य का मकर राशि में प्रवेश होगा, इसी के साथ विवाह कार्यों की शरुआत हो जाएगी। नवम्बर और दिसम्बर माह में जमकर शादियां होगी। नवम्बर में 3 दिन और दिसम्बर में 6 दिन मुहूर्त है, इस दौरान शहर में तकरीबन 3 हजार शादियां होने की उम्मीद है।  नवम्बर दिसम्बर माह में तकरीबन हर शादी हाल, मैरिज गार्डन सहित जरूरी सामग्री की बुकिंग हो चुकी है।

RAM KUMAR KUSHWAHA
भाषा चुने »