Please assign a menu to the primary menu location under menu

Saturday, November 26, 2022
खास समाचार

मप्र नए वैरिएं प्लस के मिलने के बाद सतर्क हुआ प्रशासन

Visfot News

छतरपुर। भोपाल और शिवपुरी में कोरोना वायरस के नए वैरिएंट डेल्टा प्लस के मामले सामने आने के बाद केन्द्र सरकार ने नए वैरिएंट के लिए मप्र को सतर्क रहने के निर्देश दिए हैं। इन्हीं निर्देशों के तहत अब छतरपुर जिले में भी नए मिलने वाले पॉजिटिव मरीजों के सेम्पल रेंडम तरीके से डेल्टा प्लस की जांच के लिए दिल्ली भेजे जाएंगे। एक जून से 15 के बीच मिले पॉजिटिव मरीजों के सेम्पल भी डेल्टा प्लस की जांच के लिए दिल्ली भेजे गए थे हालांकि तब सभी की रिपोर्ट निगेटिव थी। अब 16 जून से 30 जून के बीच मिलने वाले पॉजिटिव मरीजों के सेम्पल भी नए वैरिएंट की जांच के लिए दिल्ली भेजे जाएंगे। उल्लेखनीय है कि दूसरी लहर के दौरान भारत में तबाही मचा चुके कोरोना के डेल्टा वैरिएंट ने अब अपने स्वरूप में फिर से बदलाव कर लिया है। अब डेल्टा प्लस वैरिएंट के कई मामले देश के अलग-अलग राज्यों में मिल रहे हैं। मप्र के भोपाल और शिवपुरी में भी ऐसे मामले मिल चुके हैं इसलिए प्रदेश में भी तीसरी लहर का खतरा मंडरा रहा है। फिलहाल छतरपुर जिले में कोरोना का सिर्फ एक एक्टिव केस मौजूद है। 13 जून के बाद लगातार निगेटिव आ रहीं रिपोर्ट के बाद जिला कोरोना मुक्त हो गया था। 23 जून की रात अलीपुरा क्षेत्र के ग्राम टीला की एक 20 वर्षीय महिला पॉजिटिव मिली है। हालांकि वह सामान्य स्थिति में है और उसे जिला अस्पताल के कोविड वार्ड में बिना ऑक्सीजन के ही रखा गया है। 14 जून से 22 जून तक जिले में कोरेाना का एक भी मामला सामने नहीं आया लेकिन 23 जून की रात अलीपुरा क्षेत्र के ग्राम टीला की एक महिला कोरोना पॉजिटिव पायी गई है। स्वास्थ्य विभाग ने सतर्कता बरतते हुए ग्राम टीला को कंटेनमेंट एरिया बनाकर महिला के संपर्क में आए सभी लोगों के सेम्पल लिए हैं। गांव में भी सर्वे कराया जा रहा है। सर्दी, जुकाम, खांसी के लक्षणों वाले लोगों की सेम्पलिंग हो रही है। गुरूवार को जिले भर में 375 लोगों की एंटीजन किट से कोरोना जांचें हुईं। ये सभी निगेटिव रहीं। इसी तरह 22 जून को लिए गए 602आरटीपीसीआर सेम्पल के परिणाम भी निगेटिव रहे। फिलहाल जिले में कोरोना का एक ही एक्टिव केस मौजूद है।

RAM KUMAR KUSHWAHA
भाषा चुने »