Please assign a menu to the primary menu location under menu

Friday, December 2, 2022
खास समाचारडेली न्यूज़

कोशिश करने वालों की हार नहीं होती: आलोक चतुर्वेदी

Visfot News

सोलर प्लांट स्थापना के प्रयासों पर विधायक ने जताई खुशी
छतरपुर। छतरपुर विधायक आलोक चतुर्वेदी पज्जन भैया ने कहा कि समाज और क्षेत्र कल्याण के लिए लगातार कोशिश करने के सार्थक परिणाम सामने आ रहे हैं। विधानसभा में छतरपुर के सोलर प्लांट के लिए उनके द्वारा लाए गए अशासकीय संकल्प के बाद सरकार ने छतरपुर में लगभग 1500 मेगावॉट के दो सोलर प्लांट लगाए जाने को मंजूरी दी थी। धीरे-धीरे इन प्रयासों को गति मिल रही है। विगत रोज भोपाल से आए नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा विभाग के दल द्वारा किए गए सोलर प्लांट स्थल निरीक्षण पर विधायक ने खुशी जताई है। उन्होंने कहा कि जब छतरपुर जिले के बरेठी में लगने वाले थर्मल पावर प्लांट को निरस्त कर दिया गया था तब उन्होंने विधानसभा में विरोध स्वरूप आवाज उठाई थी। इतना ही नहीं उन्होंने बुन्देलखण्ड में रोजगार और बिजली संयंत्रों की स्थापना के लिए सरकार को मजबूर किया था। वे विधानसभा में इसके लिए एक अशासकीय संकल्प लेकर आए थे जिस पर संपूर्ण सदन ने सहमति देकर इस संकल्प को केन्द्र सरकार को भेजा था। तत्कालीन कांग्रेस सरकार ने भी छतरपुर में सोलर प्लांट की स्थापना के लिए आश्वासन दिया था। इसी के परिणामस्वरूप छतरपुर के बरेठी में एनटीपीसी के लगभग 550 मेगावॉट एवं किशनगढ़ क्षेत्र में 950 मेगावॉट के सोलर पावर प्लांट की स्थापना के लिए सरकार ने प्रयास शुरू किए थे। इन्हीं प्रयासों का असर अब सामने आ रहा है। विगत रोज नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा विभाग के उपसचिव दीपक सक्सेना ने छतरपुर में प्रस्तावित सोलर प्लांट स्थल का निरीक्षण कर आश्वासन दिया है कि मार्च 2023 तक यह प्लांट प्रारंभ हो जाएंगे।विधायक श्री चतुर्वेदी ने कहा कि इसी तरह मार्च 2021 में विधानसभा के दौरान ध्यानाकर्षण लाकर उन्होंने सरकार से छतरपुर में मेडिकल कॉलेज निर्माण को लेकर स्पष्ट आश्वासन मांगा था जिस पर सरकार ने जल्द ही बजट जारी करने का भरोसा दिया था। श्री चतुर्वेदी ने कहा कि सदन को दिए आश्वासन पर ही छतरपुर मेडिकल कॉलेज का डीपीआर स्वीकृत होने के लिए भोपाल पहुंच गया है। इसी तरह विधानसभा में चर्चा के दौरान उन्होंने केन-बेतवा के लिए बजट की मांग की थी जिस पर सरकार का ठोस आश्वासन प्राप्त हुआ है। कांग्रेस की कमलनाथ सरकार के दौरान नगरीय निकाय मंत्री जयवर्धन सिंह से नवीन बस स्टेण्ड, शवदाह गृह, पार्कों एवं तालाबों के सौंदर्यीकरण के संबंध में की गई मांग के बाद सरकार ने इस ओर कदम उठाए थे। वर्तमान सरकार के मंत्री भूपेन्द्र सिंह से भी इन मुद्दों पर सतत् चर्चा का असर है कि महोबा रोड पर नवीन बस स्टेण्ड के निर्माण का रास्ता साफ हो गया है। श्री चतुर्वेदी ने कहा कि वे छतरपुर की जनता की आवाज बनकर लगातार सभी क्षेत्रों में प्रयास कर रहे हैं। मसलन सागर रोड से नौगांव रोड एवं पन्ना रोड तक के बाईपास एवं ब्रिटिशकालीन पुलियों के पुर्ननिर्माण के लिए केन्द्रीय राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी से किए गए पत्राचार के बाद पुलियों का निर्माण शुरू हो चुका है एवं उक्त बाईपास निर्माण की दिशा में भी सकारात्मक रूख दिखाई दे रहा है। श्री चतुर्वेदी ने कहा कि एक विधायक होने के नाते वे छतरपुर के विकास के लिए निरंतर सडक़ से लेकर सदन तक प्रयास कर रहे हैं। उक्त कार्यों के पूर्ण होने पर छतरपुर जिले में सडक़ों, पेयजल एवं सिंचाई की सुविधा में इजाफा होगा तथा स्वास्थ्य सुविधाएं सुधारेंगी। उन्होंने विगत रोज भोपाल की टीम द्वारा सोलर प्लांट स्थल के निरीक्षण पर खुशी जाहिर की है साथ ही सरकार से मांग की है कि उक्त कार्यों को समय सीमा में पूरा कराया जाए।

RAM KUMAR KUSHWAHA
भाषा चुने »