Please assign a menu to the primary menu location under menu

Friday, December 2, 2022
खास समाचारधर्म कर्म

अब 11 दिन बजेगी शहनाई, 20 जुलाई से शुरू होगा चातुर्मास, फिर चार माह करना पड़ेगा इंतजार

Visfot News

भोपाल। जिले में इन दिनों सहालग की तैयारियां घरों में जोर शोर से चल रही है। लोग, नाते-रिश्तेदार व परिचितों के शादी समारोह में शामिल होने की तैयारी में जुटे है। अब जून महीने में तीन और जुलाई महीने में आठ दिन शुभ मुहूर्त है। 18 जुलाई को अबूझ मुहूर्त है। इस दिन पूरे जिले में ज्यादा से ज्यादा शादियां होगी।
जून महीने में अब शादी के मुहूर्त 27, 28, 30 तारीख को शादी के शुभ मुहूर्त हैं। वहीं, जुलाई में भड़ली नवमीं को अबूझ मुहूर्त सहित कुल आठ शुभ मुहूर्त है। इसके बाद 20 जुलाई से चातुर्मास की शुरुआत हो जाएगी। जिसमें अगले चार महीनों तक कोई विवाह नहीं होंगे। फिर नवंबर में शहनाई की गूंज के साथ शादियों की शुरुआत हो सकेगी। हालांकि लोगों को भड़ली नवमीं का लोगों को बेसब्री से इंजतार है। ज्योतिषाचार्य जगन्नाथ प्रसाद शास्त्री के मुताबिक जुलाई महीने से शुरू होने जा रहे चातुर्मास शुरू होने के कारण शादियों पर ब्रेक रहेगा। जुलाई महीने में पडऩे वाले अबूझ मुहूर्त में शादी की धूम रहेगी। इसके लिए लोगों को अबूझ मुहूर्त का इंतजार है। आषाढ़ मास के शुक्ल पक्ष की नवमीं से अबूझ मुहूर्त होता है। इसी दिन को भड़ली नवमीं कहते हैं। अगली अबूझ मुहूर्त देवउठनी एकादशी पर रहेगा, जोकि 14 नवंबर को है। इस तरह चार महीने बाद शादियों की शुरुआत होगी।
देवशयनी एकादशी को योग निद्रा में सोते हैं भगवान श्री हरि विष्णु
आगामी 20 जुलाई से भगवान श्री हरि विष्णु योग निद्रा सोने जाएंगे। इस दिन से देव शयन शुरू हो जाएगा जो कि 14 नवंबर तक चलेगा। इस दौरान चार महीने तक कोई भी शादी विवाह व मांगलिक कार्यों पर ब्रेक लगा रहेगा। इसके बाद 15 दिसंबर से 15 जनवरी के बीच से सूर्यदेव के धनु राशि में आने के कारण धनु मास का प्रारंभ होगा। इस एक महीने में कोई शुभ काम नहीं होगा।
यह रहेंगे शुभ मुहूर्त
जून महीने की तारीख- 27, 28, 30
जुलाई महीने की तारीख- 1, 2, 3, 6,7,12,16,18
अबूझ मुहूर्त— 18 जुलाई

RAM KUMAR KUSHWAHA
भाषा चुने »