Please assign a menu to the primary menu location under menu

Tuesday, May 28, 2024
छत्तीसगढ़

श्याम प्रभु का फागुन महोत्सव आज से 4 मार्च तक

Visfot News

राजनंदगांव

खाटूवाले श्याम प्रभु के महत्वपूर्ण उत्सवों में फागुन महोत्सव का विशेष स्थान है। श्री श्याम परिवार मित्र मंडल द्वारा इस वर्ष खाटू वाले का फागुन महोत्सव पर पांच दिवसीय भव्य कार्यक्रम की व्यापक तैयारियां पूर्ण हो गई है। महोत्सव कल 28 फरवरी से शुरू होगा। समिति द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार इस वर्ष फागुन महोत्सव के अवसर पर 21 वीं निशान यात्रा 21 फरवरी को 121 श्रद्धालु माता – बहने एवम बंधु निशान लेकर खाटु श्याम जी को समर्पित करके 26 फरवरी को वापस आ चुके है। संस्कारधानी नगरी में 28 वा फागुन महोत्सव फागुन शुक्ल अष्टमी 28 फरवरी से फागुन शुक्ल द्वादशी 4 मार्च 2023 तक पंच दिवसीय आयोजन के अंतर्गत स्थानीय स्तर पर दुग्धाभिषेक , निशान यात्रा ,भव्य भजन संध्या , रानी सती दादीजी मंगल पाठ के साथ ही श्री श्याम ज्योति अखण्ड पाठ एवम भंडारा प्रसादी आयोजित किया जाएगा।

श्री श्याम परिवार मित्र मंडल के अनुसार खाटू धाम ( उदयाचल प्रांगण ) में आयोजित फागुन महोत्सव के प्रथम दिवस 28 फरवरी को सुबह 10 बजे श्री श्याम प्रभु का दुग्धाभिषेक , दोपहर 4 : 30 बजे श्री बालाजी मंदिर , पुराना गंज मंडी से भव्य निशान यात्रा निकाली जाएगी। जो भजन सत्संग के साथ नगर भ्रमण करते हुए खाटूधाम उदयाचल पहुंचेगी। पश्चात रात्रि 8 बजे से जयपुर के सुप्रसिद्ध श्याम सेवक संजय पारीक अपनी ओजस्वी वाणी से सुमधुर भजनों की अमृत गंगा प्रवाहित करेंगे। महोत्सव के दूसरे दिन फागुन शुक्ल नवमी , 1 मार्च को दोपहर 2 बजे से कोलकाता निवासी दादीजी की दीवानी प्रियंका गुप्ता अपने सुमधुर वाणी से श्री रानी सती दादी मंगल पाठ के साथ भजनों की अमृत गंगा प्रवाहित करेगी। तृतीय दिवस फागुन शुक्ल दशमी 2 मार्च को बीकानेर के परम श्याम सेवक प्रवेश शर्मा एवम कोलकाता निवासी श्याम दीवानी पूजा नथानी श्याम प्रभु के फागुनी रंग से सराबोर भजनों की फुहार से भक्तो को स्नान कराएंगे। महोत्सव के चतुर्थ दिवस फागुन शुक्ल एकादशी , 3 मार्च को बाबा के अवतार धारण करने के दिवस को कोलकाता निवासी श्याम दीवानी श्वेता कौशिक एवम भोपाल की श्याम सेविका निशा द्विवेदी अपनी सुमधुर वाणी से भजन रूपी अमृत गंगा प्रवाहित कर भक्तो को नृत्य करने लालायित करेंगें।

इस दौरान कोलकाता की सजीव झांकी होली के रंग – राधाकृष्ण के संग के नृत्य नाटिका की प्रस्तुति से महोत्सव आकर्षक एवम दर्शनीय होगा। महोत्सव के पंचम दिवस फागुन शुक्ल द्वादशी को सुबह 11 बजे से श्री श्याम अखंड ज्योति पाठ का वाचन मेरठ के श्याम सेवक अनिल जानी के मुखारबिंद से होगा। इस अवसर पर भी सजीव झांकी के माध्यम से आकर्षक प्रस्तुति विशेष आकर्षण का केंद्र होगा। रात्रि 7 बजे से सवामनी प्रसादी के साथ महोत्सव पूर्ण होगा। महोत्सव के पांचों दिन अलग – अलग स्वरूप में श्याम प्रभु का अद्भुत श्रृंगार किया जायेगा। अखंड ज्योति प्रज्वलित की जाएगी , छप्पनभोग का प्रसाद लगाया जाएगा, भजन के दौरान इत्र , केशर , गुलाब जल एवम फूलों की होली खेली जायेगी , प्रतिदिन रात्रि में जलपान प्रसादी की व्यवस्था रहेगी। प्रतिदिन के श्रृंगार , छप्पनभोग एवम प्रसादी के यजमान बनाए गए है। 4 मार्च की महाप्रसादी के लिए अनेक भक्तो ने सवामनी प्रसादी के लिए अपनी स्वकृति प्रदान कर दी है। मंगल पाठ एवम भजन प्रारंभ होने के पूर्व प्रभु के भव्य दरबार के समक्ष अखंड ज्योति प्रज्वलित की जाएगी , जिसमे प्रत्येक भक्त माता – बहने एवम बंधु आहुति दे सकेंगे।

RAM KUMAR KUSHWAHA

2 Comments

Comments are closed.

भाषा चुने »