Please assign a menu to the primary menu location under menu

Friday, December 2, 2022
खास समाचार

अमेरिका ने लिया काबुल ब्लास्ट का बदला 48 घंटे के भीतर आतंकी को मार गिराया

अमेरिका ने लिया काबुल ब्लास्ट का बदला 48 घंटे के भीतर आतंकी को मार गिरायाअमेरिका ने लिया काबुल ब्लास्ट का बदला 48 घंटे के भीतर आतंकी को मार गिराया अमेरिका ने लिया काबुल ब्लास्ट का बदला 48 घंटे के भीतर आतंकी को मार गिराया
Visfot News

नई दिल्ली। अफगानिस्तान के काबुल एयरपोर्ट पर बम धमाकों से अमेरिका समेत दुनिया को दहलाने वाले आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट के अब बुरे दिन शुरू हो गए हैं। काबुल एयरपोर्ट पर हुए धमाकों में अपने 13 जवानों को खोने के बाद अमेरिका कहां चुप बैठने वाला था। अब उसने आतंकियों से बदला लेना शुरू कर दिया है। काबुल हमले के एक दिन बाद ही अमेरिका ने अफगानिस्तान में आईएस के आतंकियों के खिलाफ एयरस्ट्राइक की है और हमले के प्लानर यानी साजिशकर्ता को मार गिराया है। इस तरह से अमेरिका ने काबुल ब्लास्ट के 48 घंटे के भीतर अपने 13 सैनिकों की मौत का बदला आईएसआईएस-के से ले लिया। पेंटागन के मुताबिक, अमेरिका ने मानवरहित विमान के जरिए आईएस के ठिकाने पर ड्रोन से बमबारी कर काबुल आतंकी हमले के साजिशकर्ता को मार गिराया है।

यूएस सेंट्रल कमांड के एक प्रवक्ता ने कहा कि यह मानव रहित हवाई हमला अफगानिस्तान के नंगहर प्रांत में हुआ। प्रवक्ता ने कहा कि शुरुआती संकेत देते हैं कि टारगेट (काबुल हमले का साजिशकर्ता) को मार दिया गया है, जबकि कोई नागरिक हताहत नहीं हुआ है। गौरतलब है कि गुरुवार को काबुल में हुए आत्मघाती हमलों में अमेरिकी नौसैनिक के 13 जवानों की मौत हो गई थी और करीब 169 से अधिक लोग घायल हो गए थे, जिनमें ज्यादातर अफगानी नागरिक थे। इसके बाद ही अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने आतंकियों को चेताया था कि वह इस काबुल ब्लास्ट का बदला जरूर लेंगे और ढूंढकर इस हमले के साजिशकर्ता को मार गिराएंगे। उन्होंने व्हाइट हाउस में भावुक होते हुए कहा था कि हम इस हमले को न भूलेंगे और न माफ करेंगे, ढूंढकर आतंकियों का शिकार करेंगे। काबुल में अमेरिकि दूतावास ने अपने वेबसाइट पर एक बयान जारी कर कहा, ‘काबुल हवाई अड्डे पर सुरक्षा खतरों के कारण हम अमेरिकी नागरिकों को हवाईअड्डे की यात्रा से बचने और एयरपोर्ट के गेटों से दूर रहने की सलाह देना जारी रख रहे हैं। जो अमेरिकी नागरिक एबी गेट, ईस्ट गेट, नॉर्थ गेट या न्यू मिनिस्ट्री ऑफ इंटीरियर गेट पर हैं, उन्हें अब तुरंत वहां से निकल जाना चाहिए। बता दें कि काबुल हमले के पहले भी अमेरिकी दूतावास ने ऐसी ही चेतावनी जारी की थी। मगर यह लेटेस्ट चेतावनी ऐसे वक्त में है, जब अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन की सुरक्षा टीम ने चेताया है कि काबुल में एक और आतंकी हमला हो सकता है। अमेरिकी प्रेसीडेंट को बताया गया है कि काबुल में एक और आतंकी हमला होने की आशंका है और इस वजह से अफगानिस्तान की राजधानी में एयरपोर्ट पर सिक्योरिटी और बढ़ाई जा रही है। आत्मघाती हमले से दहले काबुल एयरपोर्ट पर एक और धमाके का खतरा है। अमेरिका ने कहा कि आतंकी बड़ी साजिश रच रहे हैं। ब्रिटेन और स्वीडन ने भी हमले की आशंका जताई है। अमेरिकन ब्रॉडकास्ट कंपनी के मुताबिक, नॉर्थ गेट पर कार या रॉकेट धमाका हो सकता है। वहीं, खतरे की आशंका के बीच काबुल से 16 घंटे बाद शुक्रवार दोपहर 12 बजे से उड़ानें बहाल हो गईं।

RAM KUMAR KUSHWAHA
भाषा चुने »