Please assign a menu to the primary menu location under menu

Saturday, November 26, 2022
खास समाचार

12वीं बोर्ड रिजल्ट का फॉर्मूला तय, कोई फेल नहीं होगा

Visfot News

भोपाल। मप्र में 12वीं के रिजल्ट का फॉर्मूला तय हो गया है। बोर्ड की 12वीं परीक्षा का परिणाम 10वीं क्लास के पांच विषयों में आने वाले सबसे ज्यादा अंकों के आधार पर बनेगा। इसके अनुसार किसी को भी फेल नहीं किया जाएगा। यह निर्णय मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश में शासकीय और निजी शिक्षण एवं प्रशिक्षण संस्थानों में कोविड -19 के दौरान भविष्य की रणनीति के संबंध में गठित मंत्री समूह की अनुशंसाओं पर चर्चा के दौरान लिया
परीक्षा वर्ष 2021 की नियमित और प्राइवेट के स्टूडेंट्स के लिए फॉर्म भरने वाले सभी छात्रों को उनकी कक्षा दसवीं के सर्वश्रेष्ठ पांच विषय के विषयवार अंकों के अधिभार के आधार पर रिजल्ट बनाने पर सहमति बन गई है। नियमित और प्राइवेट किसी भी छात्र को फेल नहीं किया जाएगा। कक्षा दसवीं के विषयों के आधार पर परीक्षा परिणाम तैयार करने की विस्तृत कार्य योजना का जिम्मा माध्यमिक शिक्षा मंडल को सौंपा गया है।
यूजी और पीजी में 1 अगस्त से एडमिशन
वहीं मंत्री समूह की बैठक में चर्चा के बाद नया शिक्षण सत्र कैलेंडर बनाया गया है। अब जल्द ही इसे जारी कर दिया जाएगा। इसके अनुसार यूजी फस्र्ट ईयर व पीजी फस्र्ट सेमेस्टर के लिए एडमिशन एक अगस्त से शुरू होंगे। यूजी सेकेंड और थर्ड ईयर व पीजी थर्ड सेमेस्टर के लिए प्रवेश प्रक्रिया 1 से 30 अगस्त तक चलेगी। यूजी फस्र्ट, सेकेंड, थर्ड ईयर और पीजी फस्र्ट व थर्ड सेमेस्टर के लिए नया सत्र 1 सितंबर से शुरू होगा। जिला आपदा प्रबंधन समिति के परामर्श पर महाविद्यालयवार समय सारिणी अनुसार, 50 प्रतिशत स्टूडेंट्स के साथ क्लासेज चलेंगी। प्रैक्टिकल की क्लासेज में भी 50 प्रतिशत स्टूडेंट्स शामिल हो सकेंगे। हॉस्टल और लाइब्रेरी स्टूडेंट्स के आने के साथ ही चरणबद्ध तरीके से कक्षाएं आरंभ होंगी। इंजीयरिंग के सेकेंंड, थर्ड और फाइनल ईयर की कक्षाएं 2 अगस्त से लगेंगी। फस्र्ट ईयर इंजीनियरिंग की कक्षाएं 15 सितंबर से शुरू होंगी।

RAM KUMAR KUSHWAHA
भाषा चुने »