Please assign a menu to the primary menu location under menu

Saturday, November 26, 2022
डेली न्यूज़

फिल्टर खराब होने से तीन दिनों तक नहीं मिलेगा पानी

Visfot News

छतरपुर। शहर की प्यास बुझाने के लिए 20 किमी दूर ईशानगर क्षेत्र में मौजूद धसान नदी पर स्थित नगर पालिका के फिल्टर प्लांट में बारिश के साथ आयी मिट्टी के कारण पानी अशुद्ध हो गया है। इतना ही नहीं मिट्टी की मात्रा इतनी अधिक है कि इसके कारण फिल्टर प्लांट पूरी तरह जाम भी हो चुका है। इस यूनिट को साफ करने के लिए नगर पालिका का अमला यहां बुधवार से ही कार्यरत है लेकिन अभी भी प्लांट को सुचारू रूप से शुरू करने में तीन दिन का वक्त लग सकता है। इन हालातों में छतरपुर शहर के लगभग 20 हजार से अधिक जल उपभोक्ताओं को आने वाले तीन दिनों तक जल संकट से जूझना पड़ सकता है। नगर पालिका के सब इंजीनियर अंकित अरजरिया ने बताया कि धसान पर स्थित पचेर घाट पर नगर पालिका के द्वारा पानी को शुद्ध करने के लिए फिल्टर प्लांट लगाए गए हैं। इन फिल्टर प्लांट में नदी के पानी को लेकर उसे साफ किया जाता है। स्त्रोत से आए पानी में बारिश के कारण मिट्टी सहित अन्य कचरा और ठोस अपशिष्ट फिल्टर प्लांट में पहुंच जाते हैं। अत्यधिक मात्रा में आए इस कचरे के कारण फिल्टर प्लांट पिछले कुछ दिनों से काम नहीं कर पा रहा है। शहर में आ रही पानी की सप्लाई में भी गंदगी मिलने की शिकायतें सामने आने के बाद यहां का निरीक्षण किया गया। तकनीकी सलाह लेने के बाद यहां की साफ-सफाई के लिए नगर पालिका ने 13 कर्मचारियों एवं अन्य मजदूरों को लगाकर बुधवार से ही इसकी सफाई शुरू करा दी थी। सफाई कार्य के दौरान ही बारिश के चलते काम बाधित हो रहा है। फिर भी हम जल्द से जल्द सप्लाई शुरू करने की कोशिश कर रहे हैं। गुरूवार को फिल्टर प्लांट पर चल रही साफ-सफाई को देखने के लिए सीएमओ ओमपाल सिंह भदौरिया भी पचेर घाट पहुंचे। उनकी मौजूदगी में कर्मचारियों द्वारा इस प्लांट में मौजूद लगभग 16 मिलियन पानी को बाहर निकाला गया। अब तक लगभग 20 फीसदी सफाई कार्य पूरा हो चुका है। सीएमओ ने कहा कि हम जल्द से जल्द साफ पानी की सप्लाई शुरू करेंगे लेकिन इसमें भी 3 दिन लग सकते हैं। हालांकि उन्होंने कहा कि विकल्प के तौर पर यहां मौजूद ट्यूबवैल से शहर की कुछ टंकियों तक पानी भेजने का इंतजाम किया जा रहा है।

RAM KUMAR KUSHWAHA
भाषा चुने »